राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली : उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी ने कहा कि देश के लगभग सभी हिस्सों से व सभी वर्ग के लोग दिल्ली आते हैं और यहां की अर्थव्यवस्था व समाज में योगदान देते हैं, लेकिन श्रमिकों का यह प्रवास दिल्ली के लिए चुनौती भी पैदा करता है। शनिवार को दिल्ली की मानव विकास रिपोर्ट 2013 जारी करने के बाद उपराष्ट्रपति समारोह को संबोधित कर रहे थे। श्रमिकों के प्रवास पर दिल्ली के समक्ष चुनौतियों का जिक्र इस रिपोर्ट में भी किया गया है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में शासन की सरंचना भी अनोखी है। जहा राज्य में निर्वाचित विधानसभा है और मुख्यमंत्री के नेतृत्व में सरकार चल रही है। वहीं, पुलिस व शहरी विकास जैसे प्रशासन के कुछ क्षेत्रों में केंद्र सरकार की भूमिका है। यह प्रशासनिक व्यवस्था शासन के लिए अलग तरह की चुनौती पेश करती है।

उपराष्ट्रपति ने उम्मीद जाहिर की कि दिल्ली की मानव विकास रिपोर्ट अच्छी बहस शुरू करेगी। जो शहर और इसकी सुविधाओं को इसके नागरिको के लिए ज्यादा समावेशी बनाने की योजना बनाने में योगदान देगी।

सामाजिक उपायों को दिशा देने में रिपोर्ट मददगार

इससे पहले दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि रिपोर्ट आने वाले समय में दिल्ली में सामाजिक उपायों को दिशा देने में मददगार साबित होगी। उन्होंने यह भी कहा कि मानव विकास सूचकाक-2011 की दृष्टि से दिल्ली दूसरे स्थान पर आता है। दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय और शिक्षा के संकेतकों के अनुसार देश के अन्य राज्यों के मुकाबले में बेहतर स्थिति में है। नई रिपोर्ट में दिल्ली वासियों के जीवनस्तर में 2006 की रिपोर्ट में दी गई स्थिति से सुधार बताया गया है।

समारोह को दिल्ली सरकार के वित्ता सचिव शक्ति सिन्हा, रिपोर्ट तैयार करने वाली टीम के अध्यक्ष अलख नारायण शर्मा एवं राष्ट्रीय एडवाइजरी कौंसिल के सदस्य प्रो. एके शिवा कुमार ने भी संबोधित किया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021