मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। ICC World Cup 2019 Semi Finals: कुछ धमाकेदार मैचों के बाद आखिरकार वर्ल्ड कप का ये टूर्नामेंट सेमीफाइनल में कदम रखने जा रहा है। शनिवार यानि 6 जुलाई को लीग के आखिरी दो मैच खेले जाने हैं। पाकिस्तान के सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर होने के बाद अब भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की जगह पक्की हो गई है। 

हालांकि, अब भी एक चीज का फैसला होना बाकी है। मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड टीम का स्थान तीसरे और चौथे पर पक्का है लेकिन अब भी पहले और दूसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया होगा या भारत, इसपर फैसला होना बाकी है।

शनिवार को होने वाले दो मैच भारत vs श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया vs साउथ अफ्रीका से भले ही कुछ नहीं बदलेगा लेकिन फिर भी इन दो मुकाबलों से ये साफ हो जाएगा कि प्वॉइंट टेबल पर ऑस्ट्रेलियाई टीम टॉप पर बरकरार रहेगी या उसकी जगह टीम इंडिया ले लेगी।   

फिलहाल, कंगारू टीम 8 मैचों में एक हार और 7 जीत के साथ प्वॉइंट टेबल में टॉप पर है वहीं, टीम इंडिया दूसरे नम्बर पर है। भारत ने 8 मैचों में एक हारा जबकि 6 जीते और एक मैच बारिश में धुला। इसके अलावा इंग्लैंड तीसरे और न्यूजीलैंड चौथे स्थान पर हैं।

शनिवार के पहले मैच में विराट कोहली की सेना लीड्स के मैदान पर अपने आखिरी लीग मुकाबले में श्रीलंका से भिड़ेगी। दूसरे मैच में एरोन फिंच की ऑस्ट्रेलियाई टीम का सामना मैनचेस्टर में साउथ अफ्रीका से होगा।   

इन दोनों मैचों के नतीजे सेमीफाइनल के लाइन-अप का फैसला करेंगे।

1. अगर टीम इंडिया जीत जाती है और ऑस्ट्रेलिया हार जाती है

अगर ऐसा होता है, तो भारत 15 अंकों के साथ प्वॉइंट टेबल पर नम्बर वन की पोजीशन पर आ जाएगा। वहीं हार से ऑस्ट्रेलिया के 14 अंक ही रहेंगे और वह दूसरे स्थान पर खिसक जाएगा। ऐसे में फिर टीम इंडिया का सेमीफाइनल मुकाबला मैनचेस्टर में न्यूजीलैंड के खिलाफ 9 जुलाई को खेला जाएगा। वहीं, ऑस्ट्रेलिया 11 जुलाई को दूसरे सेमीफाइनल मैच के लिए बर्मिंघम में इंग्लैंड से भिड़ेगा।  

2. अगर ऑस्ट्रेलिया और भारत दोनों जीत जाते हैं

अगर अपना आखिरी लीग मैच ऑस्ट्रेलियाई टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ जीत जाती है तो उसके 16 अंक हो जाएंगे और वह टॉप पर बनी रहेगी। साथ ही अगर भारतीय टीम भी जीत जाती है तो इसके 15 अंक हो जाएंगे लेकिन इससे ऑस्ट्रेलिया की पोजिशन पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

ऐसे में ऑस्ट्रेलिया का सेमीफाइनल मुकाबला न्यूजीलैंड से 9 जुलाई को मैनचेस्टर में होगा और भारत का मैच बर्मिंघम में इंग्लैंड से होगा।

किया टॉस जीतने से पड़ेगा असर?
भारत और श्रीलंका का मैच लीड्स के मैदान हैडिंगले में खेला जाना है। लीड्स के पिच कम स्कोर के लिए जानी जाती है। इसी पिच पर श्रीलंका, इंग्लैंड के खिलाफ 232 के स्कोर का बचाव करने में सफल हुई थी और इसी मैदान पर पाकिस्तान भी अफगानिस्तान के खिलाफ 227 के स्कोर का बचाव करने में सफल हुई थी। 

इससे साफ है कि इस पिच पर पहले बल्लेबाजी करना ही सही फैसला होगा। अगर टीम इंडिया पहले बैटिंग करती है तो वह 300 का स्कोर बनाकर श्रीलंका को ऑलआउट कर सकती है। अगर श्रीलंका पहले बल्लेबाजी करते हुए 250 का स्कोर बनाती है तो भारत इसे बड़ी आसानी से हासिल कर सकता है।

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप