कराची। पाकिस्तान के पूर्व कप्तानों और खिलाड़ियों ने टीम को भारत के खिलाफ निडर होकर खेलने की राय दी है। क्रिकेट से सियासत में आए पूर्व पाकिस्तान कप्तान इमरान खान ने कहा कि कल के मैच में जीत की कुंजी बहादुरी होगी।

उन्होंने कहा कि यदि वे हार से डरकर भारत के खिलाफ खेले तो उन्हें काफी दिक्कतें आएंगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी टीम भारत से अधिक संतुलित है लेकिन उन्हें सही रवैये के साथ इस बड़े मैच में खेलना होगा। इमरान ने कहा कि भारत के खिलाफ कोई भी मैच दबाव का होगा क्योंकि अपेक्षाएं और तनाव बहुत होगा। मैं अपने खिलाड़ियों को हार की परवाह किये बिना निडर होकर खेलने की राय दूंगा। उन्हें अपना स्वाभाविक खेल दिखाना चाहिए। पूर्व कोच और कप्तान जावेद मियादाद ने कहा कि पाकिस्तान को भारत के सीमित गेंदबाजी का फायदा उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें लक्ष्य का पीछा करना चाहिए क्योंकि भारत की बल्लेबाजी की गहराई को देखते हुए बड़ा स्कोर बनाने की कोशिश में हम पर दबाव बनेगा।

पढ़ें : धौनी की वापसी डालेगी असर, इस पाक दिग्गज ने भी अपनी टीम को चेताया

पूर्व कप्तान रशीद लतीफ ने कहा कि पाकिस्तान को अपने तेज आक्रमण से भारत पर दबाव बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे पास बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं। उमर गुल और जुनैद खान के पास अब अनुभव है। हमें तेज गेंदबाजी से भारत पर दबाव बनाना चाहिए। मुझे नहीं लगता कि भारत के खिलाफ स्पिनरों की भूमिका अहम होगी।

दक्षिण अफ्रीका के हाथों अभ्यास मैच में पाकिस्तान की करारी हार से खफा पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने आशंका जताई है कि इससे भारत के खिलाफ टी-20 विश्व कप के पहले मैच में टीम के प्रदर्शन पर असर पड़ सकता है। इंजमाम ने कहा कि खिलाड़ियों को अपनी कमजोरियों पर मेहनत करनी होगी। भारत के खिलाफ मैच में वे ये गलतियां नहीं दोहरा सकते। उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा खिलाड़ियों से कहा है कि मैच के बारे में ज्यादा सोचकर अपनी नींदें ना उड़ाएं। मैं उम्मीद करता हूं कि भारत के खिलाफ मैच के दौरान उन पर दक्षिण अफ्रीका से मिली हार का असर नहीं होगा। इंजमाम ने कहा कि सलामी बल्लेबाज शर्जील खान अंतिम एकादश में जगह पाने के लायक नहीं है और खराब फॉर्म में चल रहे शोएब मलिक को बाहर कर दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भले ही कोई कितना ही बड़ा खिलाड़ी क्यों ना हो लेकिन वह फॉर्म में नहीं है तो उसे बाहर कर दिया जाना चाहिए। भारत के खिलाफ मैच में आत्मविश्वास और दबाव को झेलने की क्षमता जरूरी है जो खराब फॉर्म में चल रहे खिलाड़ियों में नहीं होती।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस