नई दिल्ली, जेएनएन। बांग्लादेश और जिंबाब्वे के बीच खेले गए पहले टेस्ट में मेहमान टीम ने इतिहास रचते हुए बांग्लादेश टीम को उसी के घर में मात दी। जिंबाब्वे ने पहला टेस्ट 151 रन से जीत इतिहास रच दिया।जिंबाब्वे की यह पिछले 5 साल में पहली टेस्ट जीत है, वहीं बांग्लादेश को उसने 17 साल बाद टेस्ट मैच में मात  दी है।

जिंबाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सीन विलियमस की 88 रन की पारी की बदौलत 282 रन बनाए। इसके बाद मेहमान टीम के गेंदबाजी ने बांग्लादेश की पारी को केवल 143 रन पर समेट दिया। जिम्बाब्वे की ओर से चतारा और सिकंदर रजा ने 3-3 विकेट लिए। 

पहली पारी में जिम्बाब्वे को 139 रन की बढ़त मिली। दूसरी पारी में जिम्बाब्वे की टीम 181 पर ढेर हो गई। पहली पारी में 6 विकेट लेने वाले तैजुल इस्लाम ने दूसरी पारी में 5 विकेट लेकर जिम्बाब्वे को 181 पर ढेर कर दिया। तैजुल के अलावा मेंहदी हसन ने भी 3 विकेट लिए। दूसरी पारी में जिम्बाब्वे के कप्तान हैमिलटन मास्काजदा ने सर्वाधिक 48 रन बनाए

दूसरी पारी में जिंबाब्वे की लड़खड़ा गई और उसकी पारी केवल 181 रन पर ऑल आउट हो गई। पहली पारी में बढ़त के आधार पर बांग्लादेश को 321 रन का लक्ष्य दिया। बड़े स्कोर का पीछे करना उतरी मेजबान टीम केवल 169 रन पर सिमट गई। दूसरी पारी में जिंबाब्वे की तरफ से मावुता ने 21 रन देकर 4 विकेट लिए तो सिंकदर रजा को भी 3 विकेट मिले। 

कोई भी टीम 321 रन के लक्ष्य का बांग्लादेश में पीछा नहीं कर पाई है। बांग्लादेश ने अब तक सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा 2014 में जिंबाब्वे के खिलाफ किया था, जो 101 रन था। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Lakshya Sharma