नई दिल्ली, विकाश गौड़। भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2021 बहुत अच्छा नहीं गुजरा है, क्योंकि एक साल के अंदर भारत ने दो आइसीसी टूर्नामेंट खेले, लेकिन दोनों ही टूर्नामेंटों में टीम इंडिया खाली हाथ रही। यहां तक कि एक आइसीसी इवेंट के तो फाइनल में विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम को हार का सामना करना पड़ा। नए दशक का एक साल खत्म होने को है और ऐसे में हम आपको बताएंगे कि आखिर कब और कैसे भारतीय टीम आइसीसी टूर्नामेंट में 2021 में फेल रही।

भारतीय टीम ने साल 2021 में दो आइसीसी इवेंट्स में हिस्सा लिया। एक आइसीसी इवेंट वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप थी, जिसके फाइनल मैच का आयोजन पहली बार हुआ था और साल का दूसरा इवेंट आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप था। इन दोनों ही टूर्नामेंटों में टीम इंडिया को हार झेलनी पड़ी। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में टीम इंडिया को मात मिली, जबकि टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी भारत प्रवेश नहीं कर सका। दोनों बार टीम इंडिया की कमान बल्लेबाज विराट कोहली के हाथों में थी।

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी ने टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पहली बार विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आयोजन किया था। अगस्त 2019 में इस टूर्नामेंट का चक्र शुरू हुआ था और फाइनल जून 2021 में हुआ। आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में (उस समय) नंबर भारत और न्यूजीलैंड की टीम ने फाइनल मैच के लिए क्वालीफाई किया था। भारत को इस खिताब का दावेदार माना जा रहा था, लेकिन टीम इंडिया खिताब पर दावा नहीं कर सकी। न्यूजीलैंड ने 8 विकेट से आसानी से मुकाबला जीत लिया था। इस तरह टेस्ट चैंपियनशिप की गदा कीवी टीम के पास गई थी।

टी20 विश्व कप

बीसीसीआइ के मेजबानी में यूएई और ओमान में टी20 विश्व कप का आयोजन अक्टूबर-नवंबर में हुआ, जिसमें भारतीय टीम को दावेदार माना जा रहा था, लेकिन भारत को पहले पाकिस्तान और फिर दूसरे मैच में न्यूजीलैंड से सुपर 12 के मैचों में हार मिली और इसी के बाद तय हो गया था कि टीम इंडिया अब अपने दम पर सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाएगी। आखिर में ऐसा हुआ। टीम ने आखिरी तीन मैच जीते, लेकिन पांच जीत के साथ पाकिस्तान और चार जीत के साथ न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। बाद में टूर्नामेंट न्यूजीलैंड को हराकर आस्ट्रेलिया ने जीता था।

Edited By: Vikash Gaur