शारजाह, पीटीआइ। सुपर-12 के लिए पहले ही क्वालीफाई कर चुकी श्रीलंकाई टीम ने टी-20 विश्व कप के पहले दौर के अपने आखिरी मैच में स्पिनर वानिंदु हसरंगा और महेश तीक्ष्णा के शानदार प्रदर्शन के दम पर शुक्रवार को नीदरलैंड्स को आठ विकेट से हरा दिया। औपचारिकता का यह मैच दो घंटे के भीतर ही खत्म हो गया। टास जीतकर गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका ने नीदरलैंड्स को 10 ओवर के भीतर 44 रन पर समेट दिया, जो टी-20 क्रिकेट के इतिहास का छठा न्यूनतम स्कोर है जबकि टी-20 विश्व कप के इतिहास का यह दूसरा न्यूनतम स्कोर है। इसके बाद श्रीलंकाई बल्लेबाजों ने 7.1 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया।

सलामी बल्लेबाज कुशल परेरा 24 गेंद में 33 रन बनाकर नाबाद रहे। यह श्रीलंका की तीन मैचों में तीसरी जीत थी और वह छह अंक लेकर ग्रुप-ए में शीर्ष पर रही। अब उसका सामना रविवार को सुपर-12 के अपने पहले मुकाबले में बांग्लादेश से होगा। इस मैच का आकर्षक स्पिनर हसरंगा और तीक्षण रहे। हसरंगा ने नौ रन देकर तीन और तीक्ष्णा ने तीन रन देकर दो विकेट लिए। पहले बल्लेबाजी करते हुए नीदरलैंड्स ने फार्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज मैक्स ओडाउड (2) का विकेट सस्ते में गंवा दिया।

वह पहले ही ओवर में श्रीलंकाई कप्तान दासुन शनाका के सीधे थ्रो पर रनआउट हो गए। इसके बाद तीक्ष्णा ने कैरम बाल से बेन कूपर (9) और स्टीफन माइबर्ग (5) को आउट किया। लेग स्पिनर हसरंगा ने पांचवें ओवर में दो विकेट लिए। पहले उन्होंने कोलिन एकेरमैन (11 ) को आउट किया। इसके बाद बास डे लीडे (0) को पवेलियन भेजा । नीदरलैंड्स की आधी टीम 32 रन के भीतर पवेलियन लौट चुकी थी।रोल्फ वान डेर मर्वे खाता भी नहीं खोल सके, जबकि कप्तान पीटर सीलार ने दो ही रन बनाए। हसरंगा ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट किया। तेज गेंदबाज लाहिरू कुमारा ने निचलेक्रम को चलता करके सात रन देकर तीन विकेट लिए। उन्होंने 10वें ओवर में तीनों विकेट चटकाए।

श्रीलंका ने लक्ष्य का पीछा करते हुए दूसरे ओवर में सलामी बल्लेबाज पाथुम निसांका (0) का विकेट गंवा दिया, लेकिन परेरा ने इसके बाद जीत की औपचारिकता पूरी की। दिनेश चांदीमल की जगह उतरे चरित असलांका मौके का फायदा नहीं उठा सके और छह रन बनाकर आउट हो गए। 

Edited By: Viplove Kumar