नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। Ind vs SL 2nd ODI Match: भारत और श्रीलंका के बीच कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में तीन मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबला खेला गया। श्रीलंका ने भारत के सामने 276 रन का लक्ष्य रखा था। जवाब में भारत ने 49.1 ओवर में 7 विकेट खोकर जीत का लक्ष्य हासिल किया। दीपक चाहर ने शानदार अर्धशतक जमाकर टीम को जीत तक पहुंचाया। 193 रन पर भारत ने 7 विकेट गंवा दिए थे। चाहर और भुवनेश्वर कुमार ने नाबाद 84 रन की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। 3 मैचों की सीरीज में भारत ने 2-0 की अजेय बढ़त बनाकर इसे अपने नाम कर लिया है। 

श्रीलंकाई टीम के कप्तान दसुन शनाका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और निर्धारित 50 ओवर बल्लेबाजी की। श्रीलंका ने अविष्का फर्नांडो और चरित असलंका की अर्धशतकीय पारियों के दम पर 9 विकेट खोकर 275 रन बनाए। 

India vs Sri Lanka 2nd ODI Match LIVE स्कोरकार्ड

भारत की पारी, चाहर ने दिलाई जीत 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका पिछले मैच में धमाकेदार पारी खेलने वाले पृथ्वी शॉ के रूप में लगा। महज 13 रन की पारी खेलकर वनिंदु हसारंगा की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद पिछले मैच में डेब्यू पर अर्धशतक बनाने वाले इशान किशन महज 1 रन बनाकर आउट होकर वापस लौट गए। कप्तान शिखर धवन 29 रन बनाकर हसारंगा की गेंद पर lbw हो गए। 

भारत को चौथा झटका मनीष पांडे के रूप में लगा, जो दुर्भाग्यवश रन आउट हो गए। उन्होंने 31 गेंदों में 37 रन की पारी खेली। पांचवां झटका भारत को हार्दिक पांड्या के रूप में लगा जो कप्तान दसुन शनाका की गेंद पर डिसिल्वा के हाथों कैच आउट हुए। सूर्यकुमार यादव ने अपने दूसरे ही वनडे इंटरनेशनल मैच में अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 42 गेंदों पर अपने वनडे करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया।

अपना पहला वनडे अर्धशतक जड़ने के बाद सूर्यकुमार यादव आउट हो गए। उनको लक्षन संदाकन ने lbw आउट किया। उन्होंने 44 गेंदों में 53 रन बनाए। सूर्यकुमार यादव ने अपना काम किया, लेकिन वे टीम को जीत के करीब भी नहीं पहुंचा पाए। भारत को सातवां झटका क्रुणाल पांड्या के रूप में लगा और वो 35 रन बनाकर आउट हुए। दीपक चाहर ने टीम इंडिया को मुश्किल से निकालते हुए अर्धशतकीय पारी खेली। 64 गेंद पर 4 चौके और 1 छक्के की मदद से उन्होंने पचास रन पूरे किए। 

भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर ने भारतीय टीम को 49.1 ओवर में जीत तक पहुंचाया। इस जीत के साथ ही सीरीज में भारत ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल की। 

श्रीलंका की पारी, बनाए 275 रन

मेजबान श्रीलंका को अविष्का फर्नांडो और मिनोद भानुका ने सधी शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले 12 ओवरों में टीम के लिए कुल 70 रन जोड़े। हालांकि, 77 रन के कुल स्कोर पर टीम को पहला झटका मिनोद भानुका के रूप में लगा जो युजवेंद्र चहल का शिकार बने। मिनोद 42 गेंदों में 36 रन बनाकर मनीष पांडे के हाथों कैच आउट हुए।दूसरा विकेट अगली ही गेंद पर गिरा, जब चहल ने भानुका राजपक्षे को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया। राजपक्षे का कैच इशान किशन ने पकड़ा।

अविष्का फर्नांडो ने 70 गेंदों पर अपना पांचवां एकदिवसीय अर्धशतक पूरा किया। भारत के खिलाफ इनका पहला अर्धशतक है। हालांकि, अगली ही गेंद पर वे बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर क्रुणाल पांड्या के हाथों कैच आउट हो गए। चौथा झटका श्रीलंका को धनंजय डिसिल्वा के रूप में लगा, जो दीपक चाहर की धीमी गेंद पर 32 रन बनाकर शिखर धवन के हाथों कैच आउट हो गए। 

कप्तान दसुन शनाका के रूप में श्रीलंका को पांचवां झटका लगा। उनको चहल ने क्लीन बोल्ड कर इस मैच का अपना तीसरा शिकार बनाया। दीपक चाहर ने भारत को छठी सफलता दिलाई, जब उन्होंने वनिंदु हसरंगा को 8 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया। चरित असलंका ने अपने वनडे इंटरनेशनल करियर का पहला अर्धशतक ठोका। उन्होंने 56 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया।

श्रीलंका का 7वां विकेट चरित असलंका के रूप में गिरा जो 65 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर आउट हुए। 8वीं सफलता भारत को पचासवें ओवर में मिली जब भुवनेश्वर कुमार ने दुशमांथा चमीरा को 2 रन के निजी स्कोर पर सबस्टिट्यूट फील्डर देवदत्त पडिक्कल के हाथों कैच आउट कराया। इसी ओवर में इशान किशन ने लक्षन संदाकन को रन आउट किया। वहीं, चमीका करुणारत्ने 44 रन बनाकर नाबाद लौटे।

इस मैच में श्रीलंका की टीम की तरफ से एक बदलाव देखने को मिला, जबकि भारत बिना किसी बदलाव के उतरा । श्रीलंका ने इसुरु उदाना की जगह कसुन रजीथा को मौका दिया। 

भारत की प्लेइंग इलेवन

पृथ्वी शॉ, शिखर धवन (कप्तान), इशान किशन (विकेटकीपर), मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल।

श्रीलंका की प्लेइंग इलेवन

अविष्का फर्नांडो, मिनोद भानुका (विकेटकीपर), भानुका राजपक्षे, धनंजय डिसिल्वा, चरित असलंका, दसुन शनाका (कप्तान), वनिंदु हसरंगा, चमीका करुणारत्ने, कसुन रजीथा, दुशमांथा चमीरा और लक्षण संदाकन।