नई दिल्ली, जेएनएन। India vs New Zealand 3rd ODI Match Report: 5 मैचों की T20 सीरीज में न्यूजीलैंड का सूपड़ा साफ करने वाली भारतीय टीम को 3 मैचों की वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप झेलनी पड़ी है।  भारत और मेजबान न्यूजीलैंड के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला माउंट मॉन्गनुई में खेला गया, जिसे न्यूजीलैंड ने 5 विकेट से जीता और सीरीज 3-0 से अपने नाम कर ली। अब दोनों देशों के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी।  

सीरीज के आखिरी वनडे मैच में न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। ऐसे में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट खोकर 296 रन बनाए। टीम इंडिया की तरफ से केएल राहुल ने 112 रन, श्रेयस अय्यर ने 62, मनीष पांडे ने 42 और पृथ्वी शॉ ने 40 रन की पारी खेली। कीवी टीम की ओर से हामिश बेनेट ने 4 विकेट चटकाए, जबकि एक-एक विकेट काइल जैमीसन और जेम्स नीशम को मिला।  

297 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए न्यूजीलैंड ने 47.1 ओवर में 5 विकेट खोकर ये लक्ष्य आसानी से हासिल कर लिया। इसी हार के साथ भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो गया। 31 साल के बाद भारत ने कोई द्विपक्षीय वनडे सीरीज बिना कोई मैच जीते गंवाई है। कीवी टीम की ओर से इस मैच में हेनरी निकोल्स ने 80, मार्टिन गप्टिल ने 66, कोलिन डिग्रैंडहोम ने 58 और टॉम लैथम ने 32 रन की पारी खेली। भारत की ओर से चहल को 3, जडेजा और शार्दुल को 1-1 विकेट मिला।  

India vs New Zealand 3rd ODI Match Live scorecard

न्यूजीलैंड की पारी, मिली अच्छी शुरुआत

297 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए मेजबान टीम को अच्छी शुरुआत मिली। मार्टिन गप्टिल और हेनरी निकोल्स ने पहले 7 ओवर में टीम के लिए 50 रन जोड़े। इसके बाद मात्र 29 गेंदों पर मार्टिन गप्टिल ने अपना अर्धशतक पूरा किया। हालांकि, 66 रन के निजी स्कोर पर गप्टिल चहल की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। हेनरी निकोल्स ने 72 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया।

कप्तान केन विलियमसन के रूप में मेजबान टीम को दूसरा झटका लगा। विलियमसन 22 रन बनाकर चहल की गेंद पर मयंक के हाथों कैच आउट हुए। टीम को तीसरा झटका रोस टेलर के रूप में लगा जो 12 रन बनाकर जडेजा की गेंद पर विराट के हाथों कैच आउट हुए। निकोल्स के रूप में मेजबानों को चौथा झटका लगा जो 80 रन के निजी स्कोर पर शार्दुल की गेंद पर राहुल के हाथों कैच आउट हुए। 

न्यूजीलैंड टीम का पांचवां विकेट जेम्स नीशम के रूप में गिरा जो 19 रन बनाकर चहल की गेंद पर कोहली के हाथों कैच आउट हुए। 

भारतीय पारी, केएल राहुल का शतक

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका मयंक अग्रवाल के रूप में पारी के दूसरे ही ओवर में बोल्ड हो गए। मयंक ने सिर्फ 1 रन बनाया। वहीं कप्तान विराट कोहली 9 रन बनाकर बेनेट की गेंद पर जैमीसन के हाथों कैच आउट हो गए। भारत को तीसरा झटका पृथ्वी शॉ के रूप में लगा जो 42 गेंदों पर 40 रन बनाकर रन आउट हो गए। 

श्रेयस अय्यर ने 52 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इस तीन मैचों की सीरीज में उनका ये तीसरा फिफ्टी प्लस स्कोर है। हालांकि, 62 रन के निजी स्कोर पर वे जेम्स नीशम की गेंद पर डिग्रैंडहोम के हाथों कैच आउट हो गए। केएल राहुल ने 104 गेंदों में अपना शतक पूरा किया, जो उनके वनडे करियर का चौथा शतक है। केएल राहुल 113 गेंदों में 112 रन बनाकर आउट हुए। 

भारतीय टीम को छठा झटका मनीष पांडे के रूप में लगा जो 48 गेंदों में 42 रन बनाकर बेनेट का शिकार बने। सातवां झटका भारत को शार्दुल ठाकुर के रूप में गिरा जो 7 रन बनाकर बेनेट का शिकार बने। सैनी का कैच डिग्रैंडहोम ने पकड़ा। भारत की ओर से रवींद्र जड़ेजा और नवदीप सैनी 8-8 रन बनाकर नाबाद लौटे। 

भारतीय टीम में एक बदलाव

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस मुकाबले के लिए एक बदलाव किया है। ऑलराउंडर केदार जाधव की जगह मनीष पांडे को टीम में शामिल किया गया है। उधर, न्यूजीलैंड टीम के नियमित कप्तान केन विलियमसन की टीम में वापसी हो गई है। कीवी टीम में दो बदलाव हुए हैं। मार्क चैंपमैन की जगह मिचेल सैंटनर प्लेइंग इलेवन में शामिल किए गए हैं, जबकि विलियमसन टॉम ब्लंडेल की जगह टीम में आए हैं। 

भारत की प्लेइंग इलेवन

पृथ्वी शॉ, मयंक अग्रवाल, विराट कोहली(कप्तान), श्रेयस अय्यर, लोकेश राहुल(विकेटकीपर), मनीष पांडे, रवींद्र जड़ेजा, युजवेंद्र चहल, शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी और जसप्रीत बुमराह।

न्यूजीलैंड की प्लेइंग इलेवन

मार्टिन गप्टिल, हेनरी निकोल्स, केन विलियमसन(कप्तान), रोस टेलर, टॉम लैथम(विकेटकीपर), जेम्स नीशम, कोलिन डिग्रैंडहोम, मिचेल सैंटनर, हामिश बेनेट, काइले जैमीसन और टिम साउदी।

इस सीरीज का तीसरा और आखिरी मुकाबला माउंट मॉन्गनुई में खेला जा रहा है। सीरीज के पहले दो मुकाबले हारकर वनडे सीरीज गंवा चुकी भारतीय टीम इस वनडे मैच को जीतकर सीरीज में लाज बचाना चाहेगी। हालांकि, इससे पहले भारत ने 5 मैचों की टी20 सीरीज में मेजबान टीम का क्लीन स्वीप किया था।

भारतीय टीम इस मैच को इसलिए भी जीतना चाहेगी, क्योंकि इसके बाद दोनों देशों के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज शुरू होनी है। ऐसे में विराट कोहली नहीं चाहेंगे कि भारतीय टीम कम मनोबल के साथ टेस्ट सीरीज में उतरे। इस मुकाबले के लिए वे कुछ बदलाव भी टीम में कर सकते हैं। दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला 21 फरवरी से शुरू होगा, जबकि दूसरा मैच 29 फरवरी से शुरू होगा।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस