नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय महिला टीम को ऑस्ट्रेलिया में खेली गई ट्राई सीरीज के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा है। मेजबान ने फाइनल में भारत को 11 रन से हराकर सीरीज पर कब्जा जमाया। पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट के नुकसान पर 155 रन बनाए थे। जवाब में पूरी भारतीय टीम 20 ओवर में 144 रन ही बना पाई। 5 विकेट झटकने वाले ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज जेस जोनेसेन को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

भारतीय टीम ने ओपनर स्मृति मंधाना के अर्धशतकीय पारी के बाद भी जीत हासिल करने में नाकाम रही। टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। टीम की शुरुआत अच्छी नहीं और एलेसा हेली महज 4 रन बनाकर वापस लौट गई इसके बाद टीम को 56 रन पर दूसरी झटका लगा। कप्तान मेग लेनिंग का विकेट जब गिरा तो टीम ने महज 107 रन बनाए थे।

लगातार गिरते विकटों के बीच फॉर्म में चल रही बेथ मूनी ने शानदार पारी खेली और महज 54 गेंद पर 71 रन बनाते हुए टीम के स्कोर को 155 रन तक पहुंचाया। मूनी ने अर्धशतकी पारी के दौरान कुल 9 चौके लगाए और टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया। भारत के लिए दीप्ती शर्मा और राजेश्वरी गायकवाड ने दो-दो विकेट चटकाए।

मंधाना का अर्धशतक बेकार

156 रन का पीछा करने उतरे भारत के लिए एक मात्र स्मृति मंधाना ने बड़ी पारी खेली। उन्होने 37 गेंद पर 66 रन की आतिशी पारी खेली और मैच में टीम को बनाए रखा। मंधाना ने 12 चौके जमाते हुए अर्धशकीय पारी खेली और भारत के स्कोर को 115 रन तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर उनका विकेट गिरा और फिर इसके बाद पूरी टीम एकदम से ढह गई। कप्तान हरमनप्रीत कौर महज 14 रन ही बना पाई।

जेस जोनेसेन ने झटके 5 विकेट

ऑस्ट्रेलिया की जेस जोनेसेन ने कुल पांच विकेट चटकाए। 4 ओवर में महज 12 रन खर्च करते हुए उन्होंने 5 भारतीय बल्लेबाजों को आउट किया। जोनेसेन की शानदार गेंदबाज के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस