नई दिल्ली। आईपीएल 6 के दौरान स्पॉट फिक्सिंग मामले के आरोपी राजस्थान रॉयल्स के एस श्रीसंत की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। काफी मुश्किलों के बाद क्रिकेट मैदान पर वापसी करने वाले श्रीसंत का करियर लगता है अब पूरी तरह से खत्म हो जाएगा।

दिल्ली पुलिस ने उनपर आईपीएल 6 के दौरान स्पॉट फिक्सिंग का गंभीर आरोप लगाया है और इसीके साथ वे फिर से सुर्खियों में आ गए, लेकिन यह कोई पहला मामला नहीं है, जब आईपीएल के दौरान श्रीसंत विवादों में घिरे हों। इससे पहले आईपीएल के पहले सीजन में ही उनके और हरभजन सिंह के बीच हुए थप्पड़ कांड ने सबको हिलाकर रख दिया था।

किंग्स एलेवन पंजाब और मुंबई इंडियंस के बीच खेले गए उस मुकाबले में दोनों के बीच बात इतनी बढ़ गई थी कि हरभजन खुद पर काबू नहीं पा सके और श्रीसंत को एक जोरदार चाटा जड़ दिया। उसके बाद श्रीसंत मैदान पर ही फूट-फूटकर रोने लगे। मामला इतना गंभीर था कि किंग्स एलेवन पंजाब की मालकिन प्रीति जिंटा भी मैदान पर पहुंच गई और श्रीसंत को चुप कराने लगीं। उस घटना के बाद दोनों की काफी किरकिरी भी हुई थी। उस दौरान दोनों ही खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम के भी सदस्य थे।

इसके बाद आईपीएल सीजन 6 के दौरान श्रीसंत उस वक्त एकबार फिर सुर्खियों में आ गए, जब उन्होंने ट्विटर पर सफाई देकर एकबार फिर थप्पड़ कांड की गूंज तरोताजा कर दी। श्रीसंत ने सफाई दी थी कि भज्जी ने उन्हें थप्पड़ नहीं मारा था, बल्कि कोहनी मारी थी और इसके लिए वे पहले से ही मन बना चुके थे, लेकिन चश्मदीदों ने उन्हें झूठा करार देते हुए कहा था कि भज्जी ने श्रीसंत को थप्पड़ ही मारा था। अगर भज्जी को रोका नहीं जाता तो श्रीसंत को दूसरा थप्पड़ भी लग जाता।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस