नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। IPL 2021: इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 14वें सीजन के जब लीग मैच समाप्त हुए थे तो दो ऐसी टीमों ने प्लेआफ के लिए क्वालीफाइ किया था, जिन्होंने कभी आइपीएल का खिताब नहीं जीता। ऐसे में माना जा रहा था कि इस बार कोई नया चैंपियन आइपीएल को मिल सकता है, लेकिन अब ये संभव नहीं है, क्योंकि कभी भी आइपीएल का खिताब न जीतने वाली दोनों टीमों का सफर आइपीएल 2021 से समाप्त हो गया है और दो ऐसी टीमें फाइनल खेलेंगी, जो दो या इससे ज्यादा खिताब चुकी हैं।

दरअसल, आइपीएल 2021 के प्लेआफ के लिए क्वालीफाइ करने वाली चार टीमों में दिल्ली कैपिटल्स, चेन्नई सुपर किंग्स, रायल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम शामिल थी। इनमें से दिल्ली और बैंगलोर की टीम ऐसी थी, जिसने कभी भी आइपीएल का खिताब नहीं जीता था। अंकतालिका में पहले नंबर पर रहने वाली दिल्ली और तीसरे नंबर पर सफर खत्म करने वाली बैंगलोर के पास फाइनल में पहुंचने का मौका था, लेकिन ये दोनों टीमें अब आइपीएल 2021 से एलिमिनेट हो गई हैं।

रायल चैलेंजर्स बैंगलोर का सफर कोलकाता ने समाप्त किया, जब केकेआर ने आरसीबी को एलिमिनेटर मैच में हरा दिया। कोलकाता ने ही दिल्ली को भी आइपीएल 2021 से बाहर का रास्ता दिखाया, जब क्वालीफायर 2 में दिल्ली को करीबी मैच में केकेआर से हार मिली। अब चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच आइपीएल 2021 की ट्राफी जीतने के लिए जंग होगी। हालांकि, पहले से ही इन दोनों फ्रेंचाइजियों के कैबिनेट में दो या इससे ज्यादा चमचमाती ट्राफी रखी हैं।

चेन्नई सुपर किंग्स तीन बार की आइपीएल विजेता है, जबकि कोलकाता नाइट राइडर्स ने भी दो बार आइपीएल का खिताब अपने नाम किया है। चेन्नई ने साल 2010 और 2011 के अलावा साल 2019 में महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में खिताबी जीत हासिल की थी, जबकि 2012 और 2014 का सीजन केकेआर ने अपने नाम किया था। कोलकाता तीसरी बार फाइनल में पहुंची है और इससे पहले दोनों बार टीम ने गौतम गंभीर की कप्तानी में फाइनल मुकाबला जीता है।

Edited By: Vikash Gaur