दुबई, प्रेट्र। कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के मुख्य कोच ब्रेंडन मैकुलम ने कहा है कि आइपीएल 2021 के पहले चरण में भारत में जब कोरोना महामारी फैली तब डर के मारे उन सभी की बुरी हालत थी। केकेआर के स्पिनर वरुण चक्रवर्ती और तेज गेंदबाज संदीप वारियर सबसे पहले मई में कोरोना पाजिटिव पाए गए थे जब आइपीएल चल रहा था जिसे बाद में स्थगित कर दिया गया। केकेआर का प्रदर्शन पहले हाफ में अच्छा नहीं रहा और टीम सातवें स्थान पर है, लेकिन मैकुलम को उम्मीद है कि 19 सितंबर से यूएई में लीग फिर शुरू होने पर टीम बेहतर प्रदर्शन करेगी।

उन्होंने कहा, 'हम दूसरे चरण में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। हम एक-दूसरे का मनोबल बढ़ाना होगा और अगले चार से पांच सप्ताह शानदार प्रदर्शन करना होगा। पिछली बार सत्र के पहले चरण के दौरान मुझे लगता है कि हम बहुत ज्यादा डरे हुए थे। उस समय भारत में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप था जिसमें कई जानें गईं।' केकेआर के साथ एक खिलाड़ी के तौर पर आइपीएल के सफल का आगाज करने वाले 39 वर्ष के मैकुलम अब कोच हैं और उन्हें उम्मीद है कि उनकी टीम खराब प्रदर्शन को पीछे छोड़कर आगे आएगी।

अपनी कोचिंग शैली के बारे में उन्होंने कहा, 'जब मैंने भारत छोड़ा तो हर किसी ने कोच के रूप में मुझे जान लिया था और अब उन्हें यह भी पता है कि मैं टीम से कैसा प्रदर्शन चाहता हूं।' केकेआर का सामना 20 सितंबर को अबू धाबी में विराट कोहली की रायल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम से होगा। आपको बता दें कि, आइपीएल 2021 के दूसरे चरण का आयोजन 19 सितंबर से यूएई में किया जाएगा और इसका फाइनल मुकाबला 15 अक्टूबर को खेला जाएगा। इस बार स्टेडियम में दर्शकों को भी आने की इजाजत दी जाएगी, लेकिन वहीं फैंस मैच देखने आ सकते हैं जिन्होंने कोविड वैक्सीन लगवा ली है।

Edited By: Sanjay Savern