नई दिल्ली, जेएनएन। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन पर कोरोना की वजह से मंडराते खतरे को देखते हुए बड़ा फैसला लिया जा सकता है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड टूर्नामेंट में आगे होने वाले सभी मुकाबलों को मुंबई में शिफ्ट करने पर विचार कर रही है। भारत के अन्य सभी जगह के आयोजन स्थल को छोड़ 7 मई तक सभी टीमों को मुंबई ले जाया जा सकता है। जानकारी के मुताबिक वानखेड़े और डी वाई पाटिल स्टेडियम में सभी टीमों के लिए व्यवस्था की जानी है।

मीडिया में आई खबरों की माने तो 7 मई तक सभी टीमों के मुंबई में जमा होने की तारीख निर्धारित की गई है। वैसे इसमें कुछ और दिन भी लग सकते हैं अगर बोर्ड और फ्रेंचाइजी टीम को ऐसा लगा की होटल और बाकी जगहों को सेनेटाइज करने के लिए यह वक्त प्रयाप्त नहीं होगा। गौरतलब है कि सोमवार को कोलकाता नाइटराडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला जाने वाला मुकाबला स्थगित कर दिया गया था।

कोलकाता के दो खिलाड़ी वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर को कोरोना संक्रमित पाया गया था। इसके बाद बीसीसीआइ ने टूर्नामेंट के भविष्य पर चर्चा की और फिलहाल के लिए कोलकाका के संपर्क में आई दिल्ली कैपिटल्स की टीम को क्वारंटाइन होने कहा गया। अब खबर है कि बोर्ड चार्टर प्लेन, होटल और स्टेडियम को सेनेटाइज करने में व्यस्त है और जल्दी ही सभी 8 टीमों को रखने का इंतजाम मुंबई में सुनिश्चित किया जाएगा।

आइपीएल के आयोजन के लिए इस साल 6 जगहों को चुना गया है। बैंगलोर, दिल्ली, अहमदाबाद, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता को इस बार मैच की मेजबानी का जिम्मा दिया गया है। इसमें से अब खबरें हैं कि सभी टीमों को मुंबई में शिफ्ट करने की योजना चल रही है। मुंबई में तीन स्टेडियम हैं जहां मैच कराने की सुविधा है। वानखेड़े में फिलहाल मैच खेले जा रहे हैं। इसके अलावा डि वाई पाटिल और ब्रेबॉर्न स्टेडियम भी मैच के लिए तैयार कराए जाने की जानकारी आ रही है। 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप