जयपुर, पीटीआई। IPL 2019 लीग के 5वें मुकाबले में पंजाब ने राजस्थान को 14 रन से हरा दिया। पंजाब रोमांचक तरीके से जीत तो गई लेकिन मैच के दौरान 'मैनकेडिंग' की वजह से अश्विन की खूब आलोचना हुई। 'मैनकेडिंग' तब होती है जब दूसरे छोर पर खड़ा बल्लेबाज़ क्रीज़ से बाहर होता है और उसे रनआउट कर दिया जाता है। हालांकि मैच के बाद रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि उन्हें जोस बटलर को बिना चेतावनी के रनआउट करने का कोई पछतावा नहीं है क्योंकि उनका मानना है कि एक बल्लेबाज़ को जल्दी क्रीज छोड़ने से बचना चाहिए। 

दरअसल, राजस्थान के बल्लेबाज़ जोस बटलर ने टीम को जीताने के लिए जोरदार बल्लबाजी की। लेकिन अश्विन ने उन्हें बिना चेतावनी के मैनकेडिंग तरीके से आउट कर दिया। जिसके बाद अश्विन की खूब आलोचना हुई। लेकिन अश्विन का कहना है कि इस तरह आउट करने का हर खिलाड़ी को हक है। 

राजस्थान की पारी की 13वें ओवर तक साफ था कि बटलर टीम को जीत दिलवाएंगे। पिछले सीज़न में लगातार 5 अर्धशतक लगाने वाले जोस बटलर ने इस बार भी 69 रन बना लिए थे। लेकिन इसके बाद जो हुआ उसने मैच का रुख पूरी तरह से बदल दिया। 13वें ओवर की आखिरी गेंद पर अश्विन ने बटलर को 'मैनकेडिंग' तरीके से आउट कर सभी को हैरान कर दिया। दरअसल, बटलर क्रीज़ से थोड़ा आगे निकले और अश्विन ने बिना किसी चेतावनी के उन्हें आउट कर दिया। जिसके बाद पंजाब की मैच में वापसी हो गई और उसने जीत दर्ज की। बटलर के विवादित तरीके से आउट होते ही राजस्थान के खिलाड़ी दबाव में आ गए और यही उनकी हार का मुख्य कारण बन गया।

अश्विन ने कहा, "बटलर ने खुद क्रीज़ छोड़ दी थी। हमने बस क्रिकेट के नियम के तहत उन्हें आउट किया। मेरा मानना है कि ऐसे पल गेम को पूरी तरह पलट देते हैं। एक बल्लेबाज़ को इसका ध्यान रखना चाहिए।"

अश्विन ने टीम के गेंदबाज़ों की जमकर तारीफ करते हुए कहा, " हम जानते थे कि 6 ओवर के बाद खेल धीमा हो जाएगा। लेकिन जीत का श्रेय गेंदबाज़ों को जाता है। मैं सभी गेंदबाज़ों के प्रदर्शन से खुश हूं। शुरुआती ओवर में सैम कुरन अच्छा नहीं कर सके थे लेकिन आखिरी ओवर में उन्होंने कमाल कर दिया। टीम के सभी खिलोड़ियों ने अपना काम अच्छे से किया।" 

Posted By: Ruhee Parvez