नई दिल्ली, जेएनएन। आइपीएल के दूसरे क्वालिफायर में सनराइजर्स हैदराबाद ने कोलकाता नाइटराइडर्स पर जीत दर्ज करते हुए फाइनल का टिकट हासिल कर लिया। इस मुकाबले में सनराइजर्स की जीत के हीरो रही अफगानिस्तान के खिलाड़ी राशिद खान। राशिद ने ऑलराउंड प्रदर्शन कर अकेले दम पर सनराइजर्स को आइपीएल 2018 के फाइनल में पहुंचा दिया।

राशिद के इस शानदार प्रदर्शन के बाद अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने उनकी जमकर तारीफ की। राष्ट्रपति ने राशिद खान को देश का हीरो बताया और भारतीय फैंस द्वारा राशिद को भारतीय नागरिकता देने की मांग पर उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज में इनकार कर दिया।

इसके लिए राष्ट्रपति अशरफ गनी ने ट्वीटर का सहारा लिया। गनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए कहा कि, हम राशिद खान को नहीं जाने देंगे। राष्ट्रपति गनी ने कहा- "हमें अपने हीरो राशिद पर फर्क है। मैं अपने भारतीय मित्रों को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने हमारे खिलाड़ियों को आइपीएल में खेलने का मौका दिया। राशिद हमें याद दिलाते हैं कि अफगानी क्यों खास होते हैं। वो क्रिकेट के लिए एक एसेट हैं। नहीं हम उसे नहीं जाने देंगे पीएम मोदी"।

राशिद बने केकेआर के रास्ते का रोड़ा 

इस मैच में ज्यादातर वक्त मेजबान टीम कोलकाता नाइटराइडर्स का पलड़ा भारी था। कोलकाता की स्पिन तिकड़ी कुलदीप यादव (2/29), सुनील नारायण (1/24) और पीयूष चावला (1/22) की शानदार गेंदबाजी के बीच राशिद ने पहले आतिशी बल्लेबाजी कर इस कदर पासा पलटा कि एक समय 150 रन भी मुश्किल से जुटाने की हालत में नजर आ रही मेहमान टीम ने निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट खोकर 174 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर लिया।

राशिद ने सिर्फ 10 गेदों पर 34 रनों की आतिशी पारी खेली, जिसमें दो चौके और चार छक्के शामिल रहे। इसके बाद राशिद (3/19) ने घातक गेंदबाजी कर एक समय आसानी से जीत की तरफ बढ़ रही कोलकाता की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। उन्होंने क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा और आंद्रे रसेल जैसे नामचीन बल्लेबाजों को पवेलियन लौटाया। राशिद ने निर्णायक ओवर में दो कैच समेत कुल तीन कैच भी पकड़े और एक रन आउट करने में भी अहम भूमिका निभाई।

IPL की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

आइपीएल का पूरा शेड्यूल देखने के लिए यहां क्लिक करें

राशिद को मिला मैन ऑफ द मैच

राशिद खान को मैन ऑफ द मैच चुना गया। उन्होंने अपना ये अवॉर्ड गृह नगर के उन लोगों के नाम किया। जो एक धमाके में मारे गए थे। अफगानिस्तान के जलालाबाद के इस स्पिनर ने कहा- मैं अपना ये अवॉर्ड उन लोगों के नाम करता हूं, जिनकी मौत एक क्रिकेट मैच के दौरान धमाके में हो गई थी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप