नई दिल्ली, पीटीआइ। Yuvraj Singh Retirement: टीम के महान बल्लेबाजों में शुमार युवराज सिंह ने अब आखिरकार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने का मन बना लिया है। लिमिटेड ओवर्स के दमदार खिलाड़ी माने जाने वाले युवराज सिंह ने संन्यास लेने का इरादा इसलिए किया है क्योंकि अब वे फ्रीलांस क्रिकेट करियर चाहते हैं। युवराज सिंह चाहते हैं कि वे आइसीसी द्वारा अप्रूव्ड टी20 लीग में खेल सकें।

इसके लिए युवराज सिंह को घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहना होगा। इसके बाद ही बीसीसीआइ इन टी20 लीग्स में खेलने की इजाजत देगी। पंजाब के रहने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज सिंह ने इसके लिए बीसीसीआइ से परमीशन की मांग की है।ऐसा इसलिए भी है कि अब 37 वर्षीय युवराज के पास टीम इंडिया के लिए खेलने का कोई मौका नहीं है। 

इस बात को लेकर बीसीसीआइ से जुड़े सूत्रों ने कहा है, "युवराज सिंह इंटरनेशनल और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लेने के बारे में सोच रहे हैं। युवराज सिंह के पास इस समय देश के लिए खेलने का कोई मौका नहीं है। लेकिन, उन्हें GT20(कनाडा), आयरलैंड के Euro T20 Slam और हॉलैंड की टी20 लीग से ऑफर आया है। लेकिन, इसके लिए युवराज को बीसीसीआइ की परमीशन चाहिए होगी।"

बीसीसीआइ के अधिकारी ने ये भी बताया है कि इरफान पठान कैरेबियन प्रीमियर लीग से अपना नाम वापस लेंगे क्योंकि वो बीसीसीआइ की परमीशन के बाद एक्टिव फर्स्ट क्लास प्लेयर हैं। वहीं, युवराज सिंह को लेकर बीसीसीआइ के सूत्रों का कहना है कि इससे संबंधित नियम देखे जाएंगे। यहां तक कि यदि वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लेंगे तब भी वे बीसीसीआइ के अंदर एक टी20 प्लेयर के रूप में दर्ज रहेंगे। 

युवराज सिंह ने हाल ही मुंबई इंडियंस के लिए आइपीएल का 12वां सीजन खेला था। आइपीएल 2019 में मुंबई की ओर से युवराज को कम ही मौके मिले। ऐसे में युवराज अपने फ्यूचर प्लान के बारे में सोच रहे हैं। हालांकि, बीसीसीआइ के अधिकारी का मानना है कि अगर कोई खिलाड़ी संन्यास लेकर बिग बैश, सीपीएल और बीपीएल में खेलना चाहता है तो इसे अनुमति है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप