विशेष संवाददाता, बर्मिंघम। इंग्लैंड एवं वेल्स में जारी आइसीसी विश्व कप में गुरुवार को एक बार फिर राजनीतिक संदेश फैलाने की घटना सामने आई। एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच दूसरे सेमीफाइनल के दौरान स्टेडियम के ऊपर से एक प्लेन निकला, जिस पर एक बैनर टंगा था और उस पर लिखा था विश्व को बलूचिस्तान के लिए आवाज उठानी चाहिए। ऐसा पहली बार नहीं है कि इस विश्व कप में स्टेडियम के ऊपर से राजनीतिक संदेश का प्रचार करता हुआ कोई प्लेन निकला हो।

इससे पहले पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच खेले गए में भी बलूचिस्तान के पक्ष में नारा लिखा प्लेन स्टेडियम के ऊपर से गुजरा था। उसके बाद हेडिंग्ले में भारत और श्रीलंका के बीच मैच में भी कई बार स्टेडियम के ऊपर से प्लेन गुजरा था जिस पर कश्मीर के लिए न्याय, भारत नरसंहार बंद करो और कश्मीर को आजाद करो जैसे नारे लगे बैनर थे।

बीसीसीआइ ने इस पर चिंता जाहिर की थी और आइसीसी के महानिदेशक स्टीव एलवर्थी ने भारतीय बोर्ड से वादा किया था कि इस तरह की चीजों को रोकने के लिए हर संभव मदद की जाएगी। हालांकि, इसके बावजूद ऐसी घटनाएं बंद होने का नाम नहीं ले रही हैं और अब गुरुवार को इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच सेमीफाइनल के दौरान एक बार फिर ऐसी घटना सामने आई।

वहीं, भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहले सेमीफाइनल मैच में ओल्ड ट्रैफर्ड स्टेडियम में से चार खालिस्तान समर्थकों को राजनीतिक संदेश लिखी टी-शर्ट पहन कर आने की वजह से बाहर कर दिया गया था। आइसीसी ने इस विवाद के बारे में कहा था कि हमने पहली पारी के दौरान ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर कुछ लोगों को इसलिए बाहर निकाल दिया क्योंकि उन्होंने टिकट नियमों का उल्लंघन कर राजनीतिक संदेश फैलाने की कोशिश की थी।

Posted By: Sanjay Pokhriyal