नई दिल्ली, जेएनएन। 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में क्रिकेट का महासंग्राम शुरू होने वाला है। वर्ल्ड कप के 12वें संस्करण में 10 टीमें भाग ले रही हैं, जिसके लिए वार्म अप मैच इसी हफ्ते से शुरू हो जाएंगे। उधर, पाकिस्तान की टीम पहले ही इंग्लैंड पहुंच चुकी है। पाकिस्तान ने वहां टी20 और वनडे सीरीज में इंग्लैंड की पिचों को परखने का काम किया है। हालांकि, इस दौरान पाकिस्तान की टीम का प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन, टीम को जीत नसीब नहीं हुई है। लेकिन, टीम के तीन ऐसे खिलाड़ी हैं, जो वर्ल्ड कप में टीम को आगे ले जा सकते हैं। इनमें दो बल्लेबाज और एक गेंदबाज का नाम शामिल है जो टीम के की प्लेयर्स होंगे। 

इन तीन की प्लेयर्स में फखर जमां, बाबर आजम और जुनैद खान का नाम है जो किसी भी वक्त मैच का पासा पलटकर पाकिस्तान के पाले में करने में माहिर हैं। हाल ही मैचों में इन खिलाड़ियों को दिखा दिया है कि वो किस तरह से विपक्षी टीमों पर भारी पड़ सकते हैं। फखर जमां और बाबर आजम इंग्लैंड में 200-200 के करीब रन बना चुके हैं। वहीं, जुनैद खान को अगर फील्डर्स का साथ मिलता है तो वे वर्ल्ड कप में किसी भी टीम के मध्यक्रम को मसलने में माहिर हैं। 

फखर जमां की क्लास 

बीते दो साल में पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज फखर जमां ने जिस तरह का खेल दिखाया है उससे हर कोई प्रभावित है। फखर जमां के वनडे करियर को अभी दो साल भी नहीं हुए हैं, बावजूद इसके फखर जमां पाकिस्तान की टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज बनकर उभरे हैं। फखर जमां ने अभी तक पाकिस्तान के लिए 35 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 52.97 की औसत से 1642 रन बनाए हैं। फखर जमां पाकिस्तान की ओर से वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। फखर जमां ने अपने वनडे करियर में कुल चार शतक और 10 अर्धशतक ठोके हैं। 

बाबर आजम का कमाल

वनडे क्रिकेट में करीब चार साल का अनुभव रखने वाले बाबर आजम पाकिस्तान के लिए अब एक उपयोगी बल्लेबाज बन गए हैं। कई मौकों पर बड़ी-बड़ी पारियां खेलने वाले बाबर आजम ने दिखा दिया है कि वे वर्ल्ड कप में विरोधी टीमों पर बरसने वाले हैं। बाबर आजम ने अभी तक पाकिस्तान के लिए 63 वनडे मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 51.13 की औसत से 2659 रन बनाए हैं। इस दौरान बाबर आजम के बल्ले से 9 शतक और 11 अर्धशतक निकले है। ये आंकड़े दर्शाते हैं कि बाबर आजम की बल्लेबाजी में कितनी निरंतरता है। यही चीज वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के लिए फायदेमंद होने वाली है। 

जुनैद बनेंगे पाक के सिपाही

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जुनैद खान के पास पाकिस्तान टीम में खेलने का अच्छा खासा अनुभव है। हालांकि, इंग्लैंड में जुनैद खान उतने प्रभावशाली नहीं दिखे। जुनैद खान के कंधों पर एक बार फिर से गेंदबाजी की बागडोर होगी। उनके साथ हसन अली और शाहीन शाह आफरीदी भी होंगे। लेकिन, बतौर अनुभवी गेंदबाज जुनैद खान इनको लीड करेंगे। जुनैद खान ने अब तक पाकिस्तान के लिए 76 मैचों में 110 विकेट अपने नाम किए हैं। जुनैद खान ने 2011 में पाकिस्तान के लिए इंटरनेशनल डेब्यू किया था। लेकिन, कभी चोट तो कभी परफॉर्मेंस की वजह से वे टीम से अंदर-बाहर होते रहे हैं। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप