नई दिल्ली। आइपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में अब तक जमानत ना मिलने से परेशान अजीत चंडीला अपने भाई के देहांत के कारण कुछ वक्त के लिए जेल से बाहर आए और इस दौरान एक समाचार चैनल से बातचीत करते हुए उन्होंने अपने दिल की बात सबके सामने रखने की कोशिश की। चंडीला ने फिक्सिंग मामले में अपना बचाव किया और कहा कि हर किसी को महंगी चीजों का शौक होता है लेकिन जब हमें पहले से इतना पैसा मिलता है तो भला हम फिक्सिंग क्यों करेंगे।

एक समाचार चैनल को दिए गए इंटरव्यू में चंडीला ने कहा, 'हर क्रिकेटर जो आइपीएल और रणजी में खेलने में सफल रहता है उसे अच्छा खासा पैसा मिलता है। सभी को अच्छे कपड़े, अच्छी घड़ियों का शौक होता है, ऐसा नहीं है कि इसके लिए गलत काम ही करना पड़े। हमें पहले ही इतना पैसा मिलता है कि हमें गलत रास्तों का रुख ना करना पड़े।' चंडीला ने इस पूरे प्रकरण और फिक्सिंग के खुलासे व उसके बाद के पूरे समय को बयां करते हुए इस इंटरव्यू में कहा, 'मेरी गिरफ्तारी के एक दिन बाद ही मेरे बड़े भाई को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था। उसके बाद से मेरी जिंदगी में बहुत कुछ हुआ है। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि ऐसा और किसी के साथ ना हो। मेरा सपना एक अच्छा क्रिकेटर बनने का था और मैंने इसके लिए बहुत मेहनत भी की है। पिछले दो आइपीएल सीजन में मेरा प्रदर्शन इसको बयां भी करता है। भगवान ने चाहा तो मैं दोबारा वापसी करूंगा।'

चंडीला ने इस इंटरव्यू के दौरान कहा कि उन्हें नहीं पसंद कि कोई उनकी निजी जिंदगी में हस्तक्षेप करे। उन्होंने दावा किया कि उनके कप्तान राहुल द्रविड़ उन्हें अच्छी तरह से जानते हैं और उन्होंने कोई भी नाकारात्मक चीज नहीं कही है। चंडीला ने इस मामले में दो अन्य आरोपी क्रिकेटरों व जमानत पर चल रहे एस श्रीसंत और अंकित चवान के लिए भी दुख प्रकट किया और कहा कि उनके साथ भी गलत हुआ है। चंडीला कहते हैं कि उन्हें कानून पर पूरा भरोसा है और वह मानते हैं कि उनके साथ न्याय किया जाएगा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस