नई दिल्ली, जेएनएन। भारत के पहले एतिहासिक डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट मैच में कप्तानी करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी विराट कोहली बने। विराट ने एक तरफ जहां इस एतिहासिक टेस्ट में पहली बार कप्तानी करने का गौरव हासिल किया तो वहीं उन्होंने पहली पारी में 32 रन बनाते ही टेस्ट क्रिकेट में एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। हालांकि अपने पहले डे-नाइट टेस्ट मैच में बतौर कप्तान विराट कोहली टॉस नहीं जीत पाए जिसका उन्हें अफसोस रहेगा बावजूद इसके ये टेस्ट उनके लिए जरूर यादगार बन गया। कप्तान व बल्लेबाज के तौर पर विराट ने अनोखी उपलब्धि अपने नाम कर ली। 

टेस्ट में कप्तान के तौर पर विराट ने पूरे किए सबसे तेज 5000 रन

बांग्लादेश के खिलाफ भारत के पहले डे-नाइट टेस्ट मैच की पहली पारी में विराट कोहली ने जैसे ही 32 रन बनाए उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में बतौर कप्तान अपने 5000 रन पूरे कर लिए। विराट कोहली ने बतौर कप्तान टेस्ट में अपने 5000 रन अपनी 86वीं पारी में पूरी कर ली। विराट ने रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़ दिया जिन्होंने ये कमाल बतौर कप्तान अपनी 97वीं पारी में की थी। वहीं क्लाइव लॉयड ने कप्तान के तौर पर टेस्ट में अपने 5000 रन अपनी 106वीं पारी में पूरी की थी। 

टेस्ट में कप्तान के तौर पर 5000 रन बनाने वाले पहले भारतीय व पहले एशियाई खिलाड़ी बने विराट

विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में कप्तान के तौर पर 5000 रन पूरे करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने। वहीं विरा ट कोहली ये कमाल करने वाले पहले एशियाई खिलाड़ी भी बन गए। विश्व क्रिकेट की बात करें तो टेस्ट कप्तान के तौर पर विराट कोहली 5000 रन पूरे करने वाले दुनिया के छठे खिलाड़ी बने। विराट से पहले ये उपलब्धि टेस्ट कप्तान के तौर पर ऑस्ट्रेलिया के एलन बोर्डर, रिकी पोंटिंग, वेस्टइंडीज के क्लाइव लायड, साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ और न्यूजीलैंड के स्टीफन फ्लेमिंग हासिल कर चुके हैं। 

कप्तान के तौर पर 5000 या उससे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी

ग्रेम स्मिथ- 109 मैच- 8659 रन

एलन बोर्डर- 93 मैच- 6623 रन

रिकी पोंटिंग- 77 मैच- 6542 रन

क्लाइव लायड- 74 मैच- 5233 रन

स्टीफन फ्लेमिंग- 80 मैच- 5156 रन

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप