नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ का टीम इंडिया के करार वर्ल्ड कप 2019 के बाद समाप्त हो जाएगा। इंग्लैंड और वेल्स में खेला जा रहा 12वां वर्ल्ड कप 14 जुलाई को खत्म हो जाएगा। इसी के साथ रवि शास्त्री और उनकी टीम का भी भारतीय टीम के साथ नाता खत्म हो रहा है, लेकिन बीसीसीआई ने अपनी सहूलियत के लिए इस कॉन्ट्रेक्ट को आगे बढ़ा दिया है। 

बीसीसीआई की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री, सहायक कोच संजय बांगर, बॉलिंग कोच भरत अरुन और फील्डिंग कोच आर श्रीधर का करार वर्ल्ड कप के बाद समाप्त होना था। लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाई गई प्रशासकों के समिति के फैसले के बाद ये रवि शास्त्री की टीम भारतीय टीम के साथ अगले 45 दिन के लिए जुड़ी रहेगी।  

बीसीसीआई ने कहा,"कमिटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स ने फैसला किया है कि सपोर्ट स्टाफ का करार 45 दिन बढ़ाया जाएगी क्योंकि वर्ल्ड कप के बाद अगले सपोर्ट स्टाफ के लिए इंटरव्यू होने हैं। इसका फैसला क्रिकेट एडवाइजरी कमिटी यानी सीएसी को करना है। सीएसी ही हेड कोच और बाकी सपोर्ट स्टाफ के इंटरव्यू लेगी। बीसीसीआई हेड कोच और सपोर्ट स्टाफ को अगले 45 दिनों के लिए उनको सैलरी देगी। 

बीसीसीआई के लिए चिंता का विषय ये भी है कि सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण इस कमिटी के सदस्य थे, जिन्होंने हितों के टकराव की वजह से सीएसी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। तेंदुलकर, गांगुली और लक्ष्मण ने इस बात के लिए बीसीसीआई के लोकपाल डी के जैन से भी स्पष्ट कर दिया था कि अगर उनके काम और उनकी भूमिका को लेकर स्पष्टता नहीं की जाती तब तक वे इससे दूर रहेंगे। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur