नई दिल्ली, जेएनएन। आइसीसी की वनडे और टी-20 के गेंदबाजों की रैंकिंग में पहले नंबर के गेंदबाज दक्षिण अफ्रीका के लेग स्पिनर इमरान ताहिर को बेंगलुरु में आइपीएल नीलामी में किसी भी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा।

नीलामी के पहले चरण में उनकी बोली भी लगी थी, लेकिन उन्हें खरीदार नहीं मिला। दूसरे चरण में भी किसी फ्रेंचाइजी ने उनमें रुचि नहीं दिखाई।

ताहिर ही इकलौता बड़ा नाम नहीं हैं जिनमें किसी भी फ्रेंचाइजी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। नीलामी में कुछ ऐसे नगीने भी रह गए जिन्हें कोई जौहरी नहीं मिला। भारतीय टीम के गेंदबाज इशांत शर्मा, ऑलराउंडर खिलाड़ी इरफान पठान, बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा और टेस्ट टीम में बल्लेबाजी की रीढ़ चेतेश्वर पुजारा के लिए भी किसी फ्रेंचाइजी ने बोली नहीं लगाई।

हाल ही में सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट में पूर्वी क्षेत्र को फाइनल में जीत दिलाने वाले युवा विराट सिंह को भी कोई खरीदार नहीं मिला है।

इस सूची में बिग बैश लीग (बीबीएल) में अछा प्रदर्शन करने वाले न्यूजीलैंड के ईश सोढी, मिशेल सैंटनर, कोलिन मुनरो, जेम्स निशाम, दक्षिण अफ्रीका के वेन पर्नेल और इंग्लैंड के विकेटकीपर-बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो भी शामिल हैं। बांग्लादेश के मेहदी हसन मिराज और शब्बीर रहमान को भी किसी ने नहीं खरीदा।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

वेस्टइंडीज के धाकड़ बल्लेबाज मलरेन सैमुअल्स को भी इस सीजन में कोई खरीदार नहीं मिला। वेस्टइंडीज दो बार टी-20 विश्व कप विजेता बनी है और दोनों बार वह 'मैन ऑफ द मैच' चुने गए। लेकिन लगता है आइपीएल में खेलने के लिए भी यह सब भी काफी नहीं।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh