नई दिल्ली, जेएनएन। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया अच्छा संघर्ष कर रही है, जिसे देखकर फैंस काफी खुश नजर आए लेकिन लंच ब्रेक में उन्हें एक ऐसी बात सुनने को मिली, जिसे सुनकर वह सोचने को मजबूर हो गए कि क्या भारत के सबसे सफल ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और भारत के मौजूदा स्टार ऑफ स्पिनर आर अश्विन के बीच रिश्ते अच्छे नहीं है।

चलिए पहले आपको पूरा वाक्या बताते हैं, दरअसल लंच ब्रेक के दौरान स्टूडियो से हरभजन सिंह ने एडिलेड में मौजूद क्रिकेट एक्सपर्ट से कहा कि अश्विन को कहा कि वह साइड लाइन से गेंद ना करें क्योंकि गेंद पुराना हो चुका है, जिससे शायद उन्हें ज्यादा मदद ना मिले, इसकी बजाय उनकी ऑस्ट्रेलिया के ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की तरह सीधी ग्रिप वाली गेंदबाजी करनी चाहिए।

अब यहां तक सब ठीक था क्योंकि भज्जी का अश्विन को सलाह देना अच्छी ही बात है लेकिन तभी भज्जी एक्सपर्ट से ये भी कह देते हैं कि अश्विन को ये मत बोलना कि ये सलाह हरभजन सिंह ने दी है, नहीं तो वह गुस्सा हो जाएंगे।

अब जैसे ही भज्जी ने ये बात बोली तो फैंस के मन में शंका जाहिर होने लगी कि दोनों क्रिकेटर्स के बीच ऐसा क्या हुआ है जो भारत के सबसे सफल ऑफ स्पिनर की सलाह सुनकर अश्विन गुस्सा हो जाएंगे। फैंस के मन में तो भी सवाल है कि क्या दोनों की रिश्तों में दरार आ चुकी है, जो इतनी बढ़ चुकी है कि एक दूसरे की बात सुनना भी उन्हें मंजूर नहीं है।

फैंस के मन में सवाल उठना लाजमी भी है क्योंकि दोनों गेंदबाजों के बीच पहले विवाद भी हो चुका है। कुछ साल पहले भज्जी ने अश्विन पर निशाना साधते हुए कहा था कि अगर मुझे भी मेरे समय में ऐसे टर्निंग विकेट मिलते तो मेरे और अनिल कुंबले के विकेट की संख्या बहुत ज्यादा होती।

हालांकि हरभजन अश्विन को सलाह सही दे रहे थे और उनका ऑस्ट्रेलिया में जो अनुभव रहा है उसके बूते अश्विन की गलती बता रहे थे। सिर्फ हरभजन ही नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया के महान लेग स्पिनर शेन वॉर्न और भारत के महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने भी अश्विन को कमेंटरी के दौरान यही सलाह दी थी। लंच के बाद जब अश्विन ने दिग्गजों द्वारा कमी को दूर किया तो ना केवल उन्हें विकेट मिले बल्कि उन्होंने रनों की गति पर भी लगाम लगाए रखी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Lakshya Sharma