नई दिल्ली, जेएनएन। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ओर से उठाई गई आपत्ति पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) ने कहा है कि भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रांची में खेले गए तीसरे वनडे मैच में आर्मी कैप पहनने की अनुमति दी गई थी। दैनिक जागरण ने पहले ही बीसीसीआइ कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी के हवाले से लिखा था कि बीसीसीआइ ने इसकी अनुमति आइसीसी से ले ली थी।

आइसीसी ने दैनिक जागरण की खबर पर मुहर लगाते हुए कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम ने देश के सैन्य बलों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए मैच में सैनिकों जैसी टोपी पहनने की पहले से ही अनुमति ले रखी थी। रांची में आठ मार्च को खेले गए तीसरे वनडे में भारतीय टीम ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए सैन्य टोपियां पहनी थीं तथा अपनी मैच फीस राष्ट्रीय रक्षा कोष में दान कर दी थी। आइसीसी के महाप्रबंधक (रणनीतिक संचार) क्लेरी फुर्लोग ने कहा कि बीसीसीआइ ने धन जुटाने और शहीद सैनिकों की याद में टोपी पहनने की अनुमति मांगी थी और उसे इसकी अनुमति दे दी गई थी।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आइसीसी को इस संबंध में कड़ा पत्र भेजा था और इस तरह की टोपी पहनने के लिए भारत के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी। पीसीबी प्रमुख अहसान मणि ने रविवार को कराची में कहा था कि बीसीसीआइ ने किसी अन्य उद्देश्य के लिए आइसीसी से अनुमति ली थी और उसका उपयोग दूसरे उद्देश्य के लिए किया जो कि स्वीकार्य नहीं है। पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ने ली थी।

Posted By: Ravindra Pratap Sing