नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम के साउथ अफ्रीका दौरे से पहले दोनों देशों के बीच होने वाली सीरीज को लेकर संशय बना हुआ है। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट की वजह से साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने तमाम घरेलू टूर्नामेंट पर पाबंदी लगा दी है। इसको लेकर इस तरह से सख्त कदम को उठाए जाने के बाद अब भारतीय टीम के दौरे पर होने वाले मुकाबलों पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं। बीसीसीआइ जल्द ही दौरे को लेकर फैसला करेगा, जो 17 दिसंबर को पहले टेस्ट के साथ शुरू होना है।

दुनियाभर में कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर डर का मौहाल पैदा हो गया है। कोविड-19 के नए वैरिएंट Omicron ने अब तक कई लोगों की जान ली है और काफी लोग संक्रमित हुए हैं। इस वैरिएंट की वजह से भारत के साउथ अफ्रीका दौरे पर सस्पेंस बना हुआ है। भारतीय टीम के इसी महीने दौर पर जाना है जहां तीनों फार्मेट के मुकाबले खेल जाएंगे।

गुरुवार को क्रिकेट साउथ अफ्रीका (CSA) के कुछ सदस्यों के कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद बोर्ड की तरफ से एक अहम फैसला लिया गया। बोर्ड ने तमाम घरेलू मैच स्थगित कर दिए हैं। इस तरह से मुकाबलों को स्थगित करने के बाद अब भारतीय टीम के साथ खेली जाने वाली सीरीज को लेकर संशय और भी गहरा गया है।

सीएसए ने कहा, 'क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका पुष्टि करता है कि डिविजन टू सीएसए चार दिवसीय घरेलू सीरीज के चौथे दौर के सभी तीन मैच स्थगित कर दिए गए हैं, जो दो से पांच दिसंबर के बीच होने थे। यह प्रतियोगिता बायो-बबल (कोरोना से बचाव के लिए बनाए गए सुरक्षित माहौल) में नहीं हो रही और पिछले कुछ दिनों में टीम के पहुंचने से पहले परीक्षण में कुछ पाजिटिव मामले सामने आए हैं। खेल से जुड़े सभी लोगों के स्वास्थ्य, सुरक्षा और बेहतरी को सुनिश्चित करने के लिए संगठन के कोविड-19 एहतियाती कदमों को लागू करना सीएसए की शीर्ष प्राथमिकता है।'

अगर भारतीय सीरीज होती है तो यह कड़े बायो-बबल में होगी। बोर्ड ने कहा, 'सीएसए स्थिति पर करीबी नजर रखे हुए है और समय आने पर साल के बाकी मैचों के संदर्भ में फैसला किया जाएगा। साथ ही इसी सप्ताहांत होने वाले सीएसए बी वर्ग तीन दिवसीय और वनडे मैचों को भी 2022 तक स्थगित कर दिया गया है।'

Edited By: Viplove Kumar