मुंबई, प्रेट्र : भारतीय कोच रवि शास्त्री ने गुरुवार को कहा कि वनडे टीम में अब कोई 'छेड़छाड़ और बदलाव' नहीं किया जाएगा, क्योंकि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच जून को विश्व कप के अपने शुरुआती मैच से पहले अब भारत को सिर्फ 13 मैच और खेलने हैं। शास्त्री ने संकेत दिए कि वे अब से उन 15 खिलाडि़यों के साथ ही खेलेंगे, जिनके विश्व कप के लिए ब्रिटेन जाने की संभावना है।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर रवाना होने से पहले शास्त्री ने साफ किया, 'अब समय आ गया है कि अपना ध्यान लगाएं और टीम के रूप में खेलें। हम उम्मीद करते हैं कि चोटों की अधिक समस्या नहीं होगी, जिससे कि हमें अन्य खिलाडि़यों की ओर नहीं देखना पड़े। हमारे पास अब काफी ज्यादा मैच नहीं बचे हैं। हमारे पास 13 मैच हैं, इसलिए हम हर समय सर्वश्रेष्ठ टीम को खिलाने की कोशिश करेंगे।'

इन 13 मैचों में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी सरजमीं पर तीन मैचों की सीरीज और फिर न्यूजीलैंड में पांच मैचों की सीरीज भी शामिल है। ऑस्ट्रेलियाई टीम भी इसके बाद पांच वनडे मैचों की सीरीज के लिए भारत आएगी। भारत को ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है, जिसकी शुरुआत छह दिसंबर से एडिलेड में होगी। 

शास्त्री ने कहा कि मेहमान टीम को ऑस्ट्रेलिया की चुनौती का सामना करने के लिए दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के अपने अनुभव से सीख लेनी होगी। उन्होंने कहा, 'मुझे सभी प्रारूपों में काफी सुधार नजर आ रहा है और मैं इंग्लैंड में सीरीज के नतीजे के बाद भी ऐसा कह रहा हूं। विदेशी परिस्थितियों में अगर आप हमारे असल प्रदर्शन को देखते हो तो उससे हम काफी खुश हैं।'

कोच को उम्मीद है कि खिलाड़ी पिछले दौरों के अपने अनुभव से सीखेंगे। उन्होंने कहा, 'यह सीखने की प्रक्रिया है। अगर हम दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में की गई गलतियों से सीखेंगे तो यह ऑस्ट्रेलिया में हमारे लिए फायदेमंद रहेगा। बेशक, टेस्ट क्रिकेट अलग है, लेकिन विश्व कप से पहले यह आखिरी सीरीज होगी, इसलिए ध्यान पूरी तरह से इसी सीरीज पर होगा।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Lakshya Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप