कराची, जेएनएन। पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) को हिला कर रख देने वाले स्पॉट फिक्सिंग मामले की गूंज मंगलवार को इंग्लैंड में भी सुनाई दी, जब वहां इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार गया। हालांकि दोनों को बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया।

लंदन स्थित नेशनल क्राइम एजेंसी (एनसीए) ने कहा कि ‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में स्पॉट फिक्सिंग की जारी जांच के दौरान पैसों के लेन-देन के मामले में जुड़े होने पर’ दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इनमें से एक व्यक्ति को क्रिकेटर बताया गया, जिसने 2013 में पाकिस्तान के लिए दो टेस्ट मैच खेले थे। हालांकि वह फिलहाल टीम में नहीं है। दोनों को अप्रैल में एजेंसी को रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

पाकिस्तानी मीडिया ने अंदाजा लगाया है कि गिरफ्तार क्रिकेटर इंग्लैंड में रह रहा पूर्व क्रिकेटर नासिर जमशेद हो सकता है, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इसकी पुष्टि नहीं की है। पीसीबी चैयरमैन शहरयार खान ने एक टीवी चैनल से कहा कि उन्होंने भी एनसीए द्वारा नासिर जमशेद को गिरफ्तार किए जाने के बारे में सुना है। उन्होंने कहा, ‘मैंने भी सुना है कि नासिर और यूसुफ नाम के किसी अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया था और जमानत पर रिहा कर दिया गया।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

उन्होंने निश्चिततौर पर ब्रिटिश सरजमीं पर अपराध किया है और गिरफ्तार किए गए। एनसीए स्वतंत्र रूप से इस मामले को देख रहा है, लेकिन यह स्पॉट फिफ्सिंग में शामिल होता है।’

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस