नई दिल्ली, जेएनएन। ICC Cricket World Cup 2019 India vs New Zealand Semi Final: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मौजूदा विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में मैदान पर उतरते ही एक इतिहास रच दिया है। MS Dhoni भारत के ऐसे पहले विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं, जिन्होंने 350 वनडे मैच खेले हैं।

टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धौनी आज न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा हैं। एमएस धौनी ने अपना 350वां वनडे मैच खेल रहे हैं।एमएस धौनी से पहले भारतीय क्रिकेट के इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ, जिसने बतौर विकेटकीपर 350 वनडे मैच खेले हैं। 

इस मामले में एमएस धौनी दुनिया के दूसरे क्रिकेटर बन गए हैं। एमएस धौनी ने बतौर विकेटकीपर सबसे ज्यादा वनडे खेलने वाले श्रीलंकाई दिग्गज कुमार संगाकारा के बाद दूसरे खिलाड़ी हैं। कुमार संगाकारा ने 360 वनडे मैच  बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज खेले हैं। वहीं, धौनी ने अब 350 वनडे मैच का आंकड़ा छू लिया है, जो अपने आप में एक बड़ा इतिहास है। 

बतौर विकेटकीपर सबसे ज्यादा वनडे मैच खेलने वाले खिलाड़ी

360 मैच कुमार संगाकारा

350 मैच एमएस धौनी

294 मैच मार्क बाउचर 

282 मैच एडम गिलक्रिस्ट 

211 मैच मोइन खान

हालांकि, विकेट के पीछे सबसे ज्यादा शिकार करने के मामले में एमएस धौनी तीसरे खिलाड़ी हैं। एमएस धौनी ने अब तक विकेट के पीछे 443 शिकार किए हैं, जिनमें 320 कैच और 123 स्टंपिंग हैं। वहीं, कुमार संगाकारा के नाम वनडे क्रिकेट में 482 डिसमिसल्स करने का रिकॉर्ड है।

संगाकारा ने 383 कैच और 99 स्टंपिंग किए हैं। इसके अलावा एडम गिलक्रिस्ट ने 472 शिकार विकेट के पीछे रहते हुए किए हैं। इसमें 417 कैच और 55 स्टंपिंग शामिल हैं। हालांकि, धौनी विकेट के पीछे रहकर स्टंपिंग करने के मामले में सबसे आगे हैं। धौनी के नाम 123 स्टंप करने का विश्व रिकॉर्ड है। वहीं, संगाकारा 99 खिलाड़ियों को स्टंप कर पाए थे। 

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस