नई दिल्ली, जेएनएन। MS Dhoni की रिटायरमेंट को लेकर चाहे कितनी भी बातें की जा रही हों। बेशक वो इन दिनों क्रिकेट के मैदान से दूर हैं और विश्व कप 2019 सेमीफाइनल के बाद से उन्होंने एक भी मैच ना खेला हो पर अपनी फिटनेस पर वो लगातार काम कर रहे हैं। धोनी को बांग्लादेश के खिलाफ टी 20 सीरीज के लिए टीम में जगह नहीं मिली पर ये भी साफ नहीं हो पाया है कि वो कब क्रिकेट से दूर होंगे यानी इस बात की उम्मीद है कि वो मैदान पर वापसी कर सकते हैं। 

धोनी अब भी जब मैदान पर होते हैं तो विकेट के पीछे उनकी फुर्ती देखते ही बनती है। धोनी को ये बात पता है कि फिटनेस आसानी से हासिल नहीं की जा सकती है और इसके लिए कड़ी मेहनत करनी ही होती है। 38 साल की उम्र में भी धोनी बेहद तेज हैं और मैदान पर उनकी हाथों की तेजी और पैर की गति इस बात की गवाही देते हैं। वहीं धोनी के छक्के अब भी इस बात की गवाही देते हैं कि उनकी हाथों में कितनी ताकत है और वो कितने फिट हैं। 

धोनी फैंस क्लब ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें धोनी पुल-अप्स करते दिख रहे हैं। इस उम्र में फिटनेस के प्रति उनका ये समर्पण हैरान करने वाला है, लेकिन इससे साफ हो जाता है कि आखिर वो क्यों विकेट के पीछे इतने तेज हैं और मैदान पर वो भी भी थके नजर नहीं आते हैं। धोनी की बेहतरीन फिटनेस का यही राज है। धोनी इतने फिट कैसे हैं इस बात का पता इससे भी लगता है कि कुछ दिन पहले हार्दिक पांड्या और धोनी के बीच सौ मीटर की रेस लगी थी जिसमें धोनी को जीत मिली थी। 

ये सच है कि उम्र के साथ शरीर के लचीलेपन में फर्क आता है, लेकिन धोनी अपनी फिटनेस को बनाए रखने के लिए सौ फीसदी देते हैं जो बेहद जरूरी है। हालांकि अब ये जरूर है कि धोनी शायद ज्यादा ब्लू जर्सी में नजर नहीं आएंगे क्योंकि चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद पहले ही कह चुके हैं कि अब उनसे आगे बढ़कर युवा खिलाड़ियों को मौका देने का वक्त है। 

हालांकि धोनी की रिटायरमेंट पर बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली भी कह चुके हैं कि ये उनका निजी मामला है कि वो कब संन्यास लेते हैं और इसके लिए उनपर किसी भी तरह का कोई दवाब नहीं बनाया जाएगा। वहीं भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने कहा है कि धोनी कब रिटायर होंगे ये फैसला करने का हक उन्होंने कमाया है। 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप