विशाल श्रेष्ठ, कोलकाता। छह मैच बाद आखिरकार कोलकाता नाइटराइडर्स की हार का सिलसिला थमा, वो भी ऐसी टीम के खिलाफ जिससे वह पिछले पांच साल से लगातार आठ मुकाबले हारती आ रही थी। आंद्रे रसेल (नाबाद 80), शुभमन गिल (76) और क्रिस लिन (54) के आतिशी अर्धशतक की बदौलत कोलकाता ने मुंबई इंडियंस को 34 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही कोलकाता ने प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा। जबर्दस्त बल्लेबाजी के बाद रसेल ने गेंदबाजी में भी जौहर दिखाते हुए दो विकेट चटकाए।

मुंबई की तरफ से हार्दिक पांड्या ने 34 गेंदों पर 91 रन की साहसिक पारी खेली, जिससे मुंबई की जीत की आस जगी थी। पांड्या ने छह चौके और नौ छक्के जड़े। लिन-गिल और रसेल की धुआंधार बल्लेबाजी की बदौलत कोलकाता ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में दो विकेट खोकर 232 रन बनाए, जो इस सत्र में किसी भी टीम का उच्चतम स्कोर है। जवाब में मुंबई की टीम सात विकेट पर 198 रन ही बना सकी।

अपने लकी ग्राउंड में ना तो रोहित शर्मा (12) चले और ना ही विस्फोटक बल्लेबाज कीरोन पोलार्ड (20)। इस सत्र में यह चौथा मौका है, जब कोलकाता ने 200 से अधिक का स्कोर बनाया। उसने दो बार पहले बल्लेबाजी करते हुए और दो बार रनों का पीछा करते हुए 200 का आंकड़ा पार किया है।

लिन-गिल ने दी शानदार शुरुआत

कप्तान रोहित ने टॉस जीतकर कोलकाता को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। लिन और गिल की जोड़ी ने अपनी टीम को शानदार शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 57 गेंदों पर 96 रन जोड़े। इस सत्र में कोलकाता की पहली विकेट के लिए यह सबसे बड़ी साझेदारी भी है। लिन ने 29 गेंदों पर 54 रन की आतिशी पारी खेली। उनके 10वें आइपीएल अर्धशतक में आठ चौके और दो छक्के शामिल रहे। स्पिनर राहुल चाहर की गेंद पर इविन लुइस ने डीप मिड विकेट पर उनका कैच लपका। वहीं, 19 साल के शुभमन ने भी महज 45 गेंदों पर 76 रनों की शानदार पारी खेल अपना तीसरा आइपीएल अर्धशतक जमाया। उनकी पारी छह चौकों और चार छक्कों से सजी रही। शुभमन ने बरिंदर सरां द्वारा डाले गए पहले ओवर की पहली दो गेंदों पर चौके जड़कर अपने खतरनाक इरादे जाहिर कर दिए थे।

जमैकन जाइंट का सुपर शो

लिन-गिल के बाद जमैकन जाइंट रसेल का सुपर शो शुरू हो गया। रसेल ने महज 40 गेंदों पर नाबाद 80 रन बनाए, जिनमें छह चौके और आठ छक्के शामिल रहे। यह आइपीएल में उनका सर्वाधिक स्कोर भी है। इसके साथ ही उन्होंने इस सत्र में तीसरा आइपीएल में अपना आठवां अर्धशतक पूरा किया।

छक्कों का भी पचासा

रसेल कितनी खतरनाक फॉर्म में हैं, इसका इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस सत्र के 12 मैचों में उन्होंने छक्कों का पचासा पूरा कर लिया। उन्होंने मैच की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर यह उपलब्धि हासिल की।

चावला के 150 विकेट

कोलकाता के स्टार स्पिनर पीयूष चावला आइपीएल में 150 विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज और दूसरे स्पिनर बन गए। चावला ने 157 मैचों में यह उपलब्धि हासिल की। इस सूची में सबसे ऊपर मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा हैं, जिनके नाम 118 मैचों में 166 विकेट हैं। दूसरे स्थान पर दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी स्पिनर अमित मिश्रा (143 मैचों में 152 विकेट) हैं।

दो-दो कैच टपकाए

मुंबई के लिए दो-दो कैच टपकाना बेहद महंगा पड़ा। पहले मलिंगा की गेंद पर कीरोन पोलार्ड ने मिड ऑफ पर 18 रन के निजी स्कोर पर लिन का कैच टपकाया। उसके बाद चाहर की गेंद पर लुइस ने ऐसे समय रसेल का कैच छोड़ा, जब वह सिर्फ एक रन के निजी स्कोर पर थे, हालांकि दोनों ही कैच आसान नहीं थे।

 

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021