नई दिल्ली, जेएनएन। इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच शुक्रवार को नॉटिंघम में पांच मैचों की वनडे सीरीज का चौथा मुकाबला खेला गया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान की ओर से बाबर आजम ने शतक जड़ा। लेकिन, इंग्लैंड की ओर से ओपनिंग करने उतरे जेसन रॉय ने ताबड़तोड़ शतक ठोककर ना केवल बाबर आजम के शतक को बेकार किया बल्कि इंग्लैंड को चौथा मैच जिताकर वनडे सीरीज 3-0 से देश के नाम करा दी। हैरानी की बात ये है कि इस मैच से पहले शतकवीर जेसन रॉय ठीक से सो नहीं पाए थे।

दरअसल, इसी साल मार्च के महीने में उनकी बेटी का जन्म हुआ था। लेकिन, मैच से पहले यानी गुरुवार की रात को वो बीमार हो गई। 28 वर्षीय जेसन रॉय और उनकी पत्नी एली ने बेटी को रात डेढ़ बजे के करीब अस्पताल में भर्ती कराया और सुबह साढ़े 8 बजे वे तीनों अस्पताल से फ्री हुए। जेसन रॉय वैसे भी देर से सोए थे। ऐसे में देर रात उठकर बेटी को इलाज के लिए ले जाने की वजह से वो सो नहीं पाए। जेसन रॉय ने केवल दो घंटे की नींद ली और फिर पाकिस्तान के खिलाफ मैच में उतर गए। 

मासूम बेटी की वजह से रातभर सो नहीं पाए दाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय पाकिस्तान के खिलाफ शतक ठोककर इंग्लैंड को सीरीज जिता दी। इस मुकाबले में जेसन रॉय ने 89 गेंदों में 114 रन बनाए, जिसमें 11 चौके और 4 छक्के शामिल थे। इस मैच से पहले जेसन रॉय पाकिस्तान के खिलाफ इसी सीरीज में 87 और 76 रन की पारी खेल चुके हैं। मैच के बाद जेसन रॉय ने इस वाकये का खुलासा किया है कि उनके लिए ये शतक क्यों खास था।   

शतक को लेकर क्या बोले जेसन रॉय?

मैच के बाद जेसन रॉय ने कहा, "मेरे लिए आज की सुबह बहुत अच्छी नहीं थी, इसलिए मेरे, मेरे परिवार और मेरी बेटी के लिए ये शतक स्पेशल था। हम उसे रात को 01:30 बजे अस्पताल ले गए। 08:30 बजे हम अस्पताल से लौटे और फिर कुछ समय आराम करने के बाद वार्मअप के लिए मैदान पर आ गए। इसलिए मेरे लिए ये भावुक शतकीय पारी है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur