दांबुला, प्रेट्र। भारतीय महिला क्रिकेट टीम शनिवार को श्रीलंका के विरुद्ध दूसरे टी-20 मैच में शीर्षक्रम के बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद लगाकर तीन मैचों की सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करने की कोशिश करेगी।

भारत ने गुरुवार को पहले टी-20 में 34 रन से जीत दर्ज करके दौरे की सकारात्मक शुरुआत की। भारतीय टीम शनिवार को अब न सिर्फ सीरीज अपने नाम करना चाहेगी, बल्कि अपने कमजोर पक्षों पर गौर करके बर्मिघम राष्ट्रमंडल खेलों से पहले जीत की लय जारी रखने का प्रयास भी करेगी। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन 28 जुलाई से आठ अगस्त के बीच होगा। इन खेलों में पहली बार महिला क्रिकेट को टी-20 प्रारूप में शामिल किया गया है।

भारतीय टीम पहले मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 138 रन ही बना पाई थी, लेकिन बायें हाथ की स्पिनर राधा यादव की अगुआई में गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन से वह जीत दर्ज करने में सफल रही। लेकिन, भारतीय बल्लेबाजी में काफी सुधार की जरूरत है। शेफाली वर्मा, कप्तान हरमनप्रीत कौर और रिचा घोष सभी को अपनी अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में बदलना होगा। हरमनप्रीत पिछले मैच में नाकाम रहने के कारण सबसे छोटे प्रारूप में सर्वाधिक रन बनाने के मिताली राज के रिकार्ड को नहीं तोड़ पाई थीं, जिसके लिए उन्हें 24 रन की जरूरत है। हाल में संन्यास लेने वाली मिताली ने 89 मैचों में 2364 रन बनाए हैं।

उप कप्तान स्मृति मंधाना और सभिनेनी मेघना पिछले मैच में नहीं चल पाई थीं। भारत को अगर बड़ा स्कोर बनाना है तो इन दोनों को बड़ी पारी खेलनी होगी। भारत पहले मैच में यदि सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच पाया तो उसका श्रेय जेमिमा रोड्रिग्ज (27 गेंदों पर नाबाद 36 रन) और दीप्ति शर्मा (आठ गेंदों में नाबाद 17 रन) को जाता है। भारत शीर्षक्रम की बल्लेबाजों से भी इसी तरह का प्रदर्शन चाहेगा। दूसरी ओर भारतीय गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। राधा, दीप्ति और कामचलाऊ स्पिनर शेफाली की स्पिन तिकड़ी ने शानदार खेल दिखाया। तीनों टी-20 मैच एक ही स्थल पर होने से दोनों टीमों के स्पिनर अहम भूमिका निभाएंगे।

श्रीलंका को भी अपने बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। पहले मैच में मध्यक्रम की बल्लेबाज कविशा दिलहारी क्रीज पर डटी रहीं, लेकिन उन्हें दूसरे छोर से कोई सहयोग नहीं मिला। कप्तान चमारी अट्टापट्टू , विश्मी गुणरत्ने, हर्षिता मडावी और निलाक्षी डिसिल्वा को बल्लेबाजी में अधिक जिम्मेदारी लेनी होगी। गेंदबाजी में इनोका रणवीरा और ओशादी रणसिंघे की स्पिन जोड़ी ने भारतीय बल्लेबाजों को बांधे रखा। उन्हें अन्य गेंदबाजों से भी सहयोग की जरूरत पड़ेगी।

टीमें :

भारत : हरमनप्रीत कौर (कप्तान), स्मृति मंधाना (उप कप्तान), सिमरन बहादुर, यस्तिका भाटिया, राजेश्वरी गायकवाड़, रिचा घोष (विकेटकीपर), सभिनेनी मेघना, मेघना सिंह, पूनम यादव, रेणुका सिंह, जेमिमा रोड्रिग्स, शेफाली वर्मा, दीप्ति शर्मा, पूजा वस्त्राकर, राधा यादव।

श्रीलंका : चमारी अट्टापट्टू (कप्तान), निलाक्षी डिसिल्वा, कविशा दिलहारी, विश्मी गुणरत्ने, अमा कंचना, हंसिमा करुणारत्ने, अचिनी कुलसूरिया, सुगंधिका कुमारी, हर्षिता मदवी, हसीनी परेरा, उदेशिका प्रबोधनी, ओशादी रणसिंघे, सत्य संदीपनी, अनुष्का रणवीरा, इनोका संजीवनी, मालशा शहानी, थारिका सेवंडी।

Edited By: Sanjay Savern