नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर टेस्ट सीरीज में ऐतिहासिक जीत हासिल की। यह लगातार दूसरा मौका है जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज कर बॉर्डर- गावस्कर ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। विराट कोहली की गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे ने दमदार कप्तानी कर भारत को चैंपियन बनाया। भारत लौटने के बाद कप्तान रहाणे का एयरपोर्ट पर शानदार स्वागत किया गया।

ऑस्ट्रेलिया का दौरा शानदार जीत के साथ खत्म करके भारत लौटी भारतीय टीम के खिलाड़ियों का स्वागत भी बेहद भव्य तरीके से किया गया। कप्तान अजिंक्य रहाणे पत्नी और बेटी के साथ गुरुवार को मुंबई पहुंचे। यहां उनके स्वागत के लिए पहले से ही हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे। इस चैंपियन कप्तान का स्वागत लोगों ने ढोल बजाकर और फुल देकर किया।

एयरपोर्ट से बाहर आने के बाद रहाणे ने पहले पत्नी और बेटी के साथ मीडिया के लिए फोटो पोज दिया। तस्वीर खिंचवाने के बाद जब वह आगे बढ़े तो उनके स्वागत में महिलाएं आरती की थाली लेकर खड़ी थी। अपने कप्तान का स्वागत महिलाओं ने माथे पर टीका लगाकर और हाथ में फूल देकर किया।

भारत की शानदार जीत

चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच एडिलेड में खेला गया था यहां भारत को 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। इस मैच के बाद नियमित कप्तान विराट कोहली निजी कारणों से भारत लौट गए। सीरीज में पिछड़ रही टीम की कमान अजिंक्य रहाणे ने संभाली और दूसरे टेस्ट में शानदार शतकीय पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। मेलबर्न में 8 विकेट से जीत हासिल कर भारत ने सीरीज में 1-1 से बराबरी की।

तीसरा मुकाबला सिडनी में खेला गया था जहां चोटिल होने के बाद भी चौथी पारी में हनुमा विहारी और आर अश्विन ने 43 ओवर तक बल्लेबाजी कर मैच ड्रॉ कराया। 259 गेंद का सामना कर दोनों ने 62 रन की साझेदारी निभाई। ब्रिसबेन में खेले गए आखिरी मैच में भारत ने 328 रन के लक्ष्य का पीछा कर ऐतिहासिक जीत दर्ज की। इस मैदान पर 32 साल बाद ऑस्ट्रेलिया की टीम को हार मिली।  

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप