नई दिल्ली, जेएनएन। एडिलेड टेस्ट मैच के पहले दिन व पहली पारी में टीम इंडिया के संकट मोचक बने भारतीय मध्यक्रम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 123 रन की पारी खेलकर टीम इंडिया को मुसीबत से निकाल लिया। पुजारा की इस साहसिक पारी के दम पर भारतीय टीम सम्मानजनक स्थिति में पहुंच पाई। उन्होंने अपनी इस पारी के बाद कई रिकॉर्ड्स तोड़े और बनाए लेकिन वो ऑस्ट्रेलियाई धरती पर किसी भी विदेशी बल्लेबाज द्वारा किसी टेस्ट सीरीज के पहले दिन सबसे लंबी पारी खेलने से चूक गए। 

ऑस्ट्रेलिया में किसी भी मेहमान बल्लेबाज की तरफ से टेस्ट सीरीज के पहले दिन सबसे लंबी पारी खेलने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज व कप्तान सर गैरीफील्ड सोबर्स के नाम पर दर्ज है। उन्होंने वर्ष 1960 में यानी 58 साल पहले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन शतक लगाया था। गैरी सोबर्स ने ये पारी ब्रिस्बेन में खेली थी। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच के पहले ही दिन 132 रन की पारी खेली थी। सोबर्स का ये रिकॉर्ड आज तक नहीं टूट पाया है। सोबर्स ने इंग्लैंड के बैट्समैन मॉरिस लेलैंड का रिकॉर्ड तोड़ा था। मॉरिस ने वर्ष 1936 में ब्रिस्बेन में ही 126 रन की पारी खेली थी। 

अब पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 123 रन की पारी खेली लेकिन वो इन दोनों के रिकॉर्ड को तोड़ने से पीछे रह गए। पुजारा अगर 10 रन और बना लेते तो वो गैरी सोबर्स से आगे निकल जाते। वो ऐसा कर भी सकते थे लेकिन उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया और पहले दिन की आखिरी गेंद पर वो रन आउट हो गए। पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया में अपने टेस्ट करियर का पहला शतक लगाया था और ये टेस्ट में उनका 16वां शतक था। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप