मैके, पीटीआइ। पहले मैच में करारी हार झेलने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम को आस्ट्रेलिया के 25 मैचों से चले आ रहे विजय अभियान को थामकर तीन मैचों की सीरीज जीवंत रखने के लिए शुक्रवार को यहां होने वाले दूसरे वनडे मैच में हर विभाग में बेहतरीन प्रदर्शन करना होगा। भारत को अपने बल्लेबाजों विशेषकर शीर्षक्रम में शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना से बड़ी पारियों की उम्मीद है। पिछले मैच में ये दोनों अच्छी शुरुआत नहीं दे पाई थी। भारत ने यह मैच नौ विकेट से गंवाया था।

शेफाली और स्मृति के पास विरोधी आक्रमण की धज्जियां उड़ाने के लिए पर्याप्त कौशल है और इन दोनों को सुनिश्चित करना होगा कि एलिस पैरी और डार्सी ब्राउन उन पर हावी न हो सके जैसा कि पहले मैच में हुआ था। पैरी और ब्राउन ने अभ्यास मैच में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। ब्राउन ने छठे ओवर तक शेफाली और स्मृति को पवेलियन भेज दिया था जिसके बाद बाकी भारतीय बल्लेबाजों ने आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करने के बजाय पारी संवारने पर अधिक ध्यान लगाया। दोनों सलामी बल्लेबाजों में से कम से कम किसी एक को टिककर खेलना होगा जबकि कप्तान मिताली राज की अगुआई वाले मध्यक्रम को भी अच्छी रन गति से रन बनाने पर ध्यान देना होगा।

अनुभवी बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर अंगूठे की चोट के कारण पहले मैच में नहीं खेल पाई थी। उनकी वापसी होने पर मध्यक्रम को मजबूती मिलेगी। टीम को दीप्ति शर्मा से भी अच्छे प्रदर्शन की जरूरत है। बायें हाथ की बल्लेबाज 21 वर्षीय यास्तिका भाटिया ने पिछले मैच में पदार्पण करते हुए अच्छा खेल दिखाया था। विश्वस्तरीय गेंदबाजी के सामने 35 रन बनाने से उनका मनोबल बढ़ा होगा।

भारतीय टीम आस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद 250 रन की संख्या तक नहीं पहुंची है और इससे कम के स्कोर पर आस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम को परेशानी में नहीं डाला जा सकता है। आस्ट्रेलियाई शीर्षक्रम में राचेल हेन्स, एलिसा हीली और कप्तान मेग लैनिंग जैसी धाकड़ बल्लेबाज हैं। इन तीनों ने पहले मैच में अर्धशतक लगाए थे। हालांकि हेन्स की कोहनी में अभ्यास सत्र के दौरान चोट लग गई और उनका दूसरा वनडे में खेलना संदिग्ध हैं।

झूलन गोस्वामी की अगुआई वाले भारतीय गेंदबाजों को भी शुरू में सफलता हासिल करनी होगी। उन्हें बल्लेबाजों पर दबाव बनाना होगा। यदि भारतीय टीम शुक्रवार का मैच नहीं जीत पाती है तो वह लगातार तीसरी सीरीज गंवाएगी। इससे पहले उसने दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ भी सीरीज गंवाई थी। 

भारत की पूर्व महिला क्रिकेटर नूशीन अल खादिर ने कहा, "पहले वनडे में हमने देखा कि आस्ट्रेलियाई गेंदबाज शेफाली के शरीर पर शार्ट गेंद डाल रहे थे। उसे बैकफुट पर बेहतर खेल दिखाना होगा क्योंकि आस्ट्रेलियाई गेंदबाज समझ गए हैं कि फ्रंटफुट पर वह क्या कर सकती हैं। अगर बैकफुट पर भी वह ऐसा ही खेल दिखा सकी तो आस्ट्रेलिया दबाव में आ जाएगा।"

Edited By: Vikash Gaur