चेन्नई, प्रेट्र। भारत रविवार से यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज में प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा जिसमें मेजबान टीम की नजरें कैरेबियाई टीम के खिलाफ लगातार 10वीं द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतने पर टिकी होंगी। पिछले 24 घंटे से यहां बारिश हो रही है जिससे दोनों टीमों की नजरें मौसम पर भी टिकी होंगी। 

विराट की लय दिलाएगी जीत : मुंबई में सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और लोकेश राहुल के अलावा कप्तान विराट कोहली की शानदार पारियों से टी-20 सीरीज जीतने के बाद भारतीय टीम लय में है। धवन की गैरमौजूदगी में वनडे सीरीज में भी पारी का आगाज करने की जिम्मेदारी रोहित और राहुल को सौंपी जा सकती है।

मयंक को मिल सकता है मौका : मयंक अग्रवाल को धवन के विकल्प के तौर पर टीम में शामिल किया गया है और देखना यह होगा कि उन्हें वनडे क्रिकेट में पदार्पण का मौका मिलता है या नहीं। कर्नाटक का यह बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में शानदार फॉर्म में था और डिंडीगुल में तमिलनाडु के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच खेलने के बाद टीम से जुड़ा है।

नंबर-चार पर श्रेयस अय्यर हिट : श्रेयस अय्यर मौकों का फायदा उठाने में सफल रहे हैं और उम्मीद है कि उन्हें चौथे नंबर पर बरकरार रखा जाएगा। यह स्थान पिछले कुछ समय से चर्चा का केंद्र रहा है। अंबाती रायुडू, रिषभ पंत और विजय शंकर सहित कई खिलाडि़यों को इस स्थान पर आजमाया गया जिसके बाद अय्यर इस क्रम पर अपनी जगह पक्की करने की कोशिश में जुटे हैं।

रिषभ पंत को चाहिए आत्मविश्वास : सभी की नजरें विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत पर भी टिकी होंगी जो पिछले कुछ समय से बल्ले और दस्ताने के साथ प्रभावी प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। पहले वनडे के जरिए उन्हें एक बार फिर कोहली और टीम प्रबंधन के भरोसे पर खरा उतरने का मौका मिलेगा, जिसके लिए उन्हें आत्मविश्वास की जरूरत है।

कुलदीप-चहल को मिलेगा मौका : यह भी देखना होगा कि युजवेंद्रा सिंह चहल और कुलदीप यादव की स्पिन जोड़ी को चेपक की स्पिन की अनुकूल पिच पर एक बार फिर साथ खेलने का मौका मिलता है या नहीं। ये दोनों पिछली बार विश्व कप में एक साथ खेले थे। अनुभवी मुहम्मद शमी और दीपक चाहर का तेज गेंदबाज के तौर पर टीम में शामिल होना तय है। दोनों ही तेज गेंदबाज वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को चुनौती देते दिखेंगे।

लुइस की चोट ने बढ़ाई मेहमानों की मुश्किल : वेस्टइंडीज को उम्मीद होगी कि मुंबई में अंतिम टी-20 के दौरान क्षेत्ररक्षण करते हुए चोटिल हुए आक्रामक सलामी बल्लेबाज इविन लुइस वनडे सीरीज में खेल पाएंगे। टीम अधिकारियों का कहना है कि पहले वनडे से पूर्व उनकी चोट का आकलन किया जाएगा। वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को आक्रामक बल्लेबाजी करने के अलावा विकेट भी बचाने होंगे जिससे कि अंतिम ओवरों में तेजी से रन जुटाए जा सकें।

शिमरोन हेटमायर और निकोलस पूरन ने सबसे छोटे प्रारूप में अपनी क्षमता दिखाई है और अगर वेस्टइंडीज को भारत को चुनौती देनी है तो 50 ओवर के प्रारूप में भी उन्हें ऐसा ही करना होगा। ऑलराउंडर रोस्टन चेस को अंतिम एकादश में जगह मिलने की उम्मीद है और वह आक्रामक बल्लेबाजों के बीच बल्लेबाजी क्रम को मजबूती दे सकते हैं। कप्तान कीरोन पोलार्ड को अच्छे प्रदर्शन करके टीम के अपने साथियों को प्रेरित करना होगा।

गेंदबाजों की राह आसान नहीं : टीम के गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई शेल्डन कॉटरेल करेंगे और रोहित, राहुल और कोहली की शानदार फॉर्म के बीच अगर मेहमान टीम को भारत को बड़ा स्कोर खड़ा करने से रोकना है जो जल्द विकेट चटकाने होंगे। लेग स्पिनर हेडन वाल्श जूनियर ने टी-20 में अच्छा प्रदर्शन किया है और उनके सामने कोहली और उनकी टीम को रोकने की कड़ी चुनौती होगी जो स्पिनरों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करती है। रात को भारी बारिश के कारण मैदान गीला होने से हालांकि मैच की पूर्व संध्या पर भारतीय टीम का अभ्यास सत्र रद कर दिया गया है।

टीम इस प्रकार है : भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रिषभ पंत, शिवम दुबे, केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्रा सिंह चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, मुहम्मद शमी और शार्दुल ठाकुर।

वेस्टइंडीज : कीरोन पोलार्ड (कप्तान), सुनील अंबरीश, शाई होप, खैरी पियरे, रोस्टन चेस, अल्जारी जोसेफ, शेल्डन कॉटरेल, ब्रेंडन किंग, निकोलस पूरन, शिमरोन हेटमायर, इविन लुइस, रोमारियो शेफर्ड, जेसन होल्डर, कीमो पॉल और हेडन वाल्श जूनियर।

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस