नई दिल्ली, जेएनएन। Ind vs Ban: भारत के खिलाफ पहले टी 20 मैच को लेकर सबसे ज्यादा बातें प्रदूषण पर ही हो रही है। वैसे पहले मैच के दौरान इसमें कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिलेगा और खिलाड़ी व दर्शक दोनों को ही खतरनाक वायु प्रदूषण से जूझना पड़ेगा। हालांकि दोनों टीमों के खिलाड़ी इस विषम परिस्थिति में भी खेलने को तैयार हैं। इस मैच में दोनों देशों के खिलाड़ियों पर खुद को बचाते हुए अच्छे प्रदर्शन का भी दवाब रहेगा। वैसे मैच के दिन पिच और मौसम का मिजाज कुछ ऐसा रहने वाला है। 

ऐसा रहेगा पिच का मिजाज

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले वनडे में कोटला मैदान पर स्पिनरों को थोड़ी मदद मिली थी। हालांकि मैदानकर्मियों का कहना है कि यह पूरी तरह टी-20 पिच है। बांग्लादेश के कप्तान महमूदुल्लाह ने कहा कि पिच पर हल्की घास है लेकिन यह बल्लेबाजों के लिए बेहतर होगी। यह देखना भी दिलचस्प होगा कि रोहित टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करते हैं या लक्ष्य का पीछा करना पसंद करते हैं। परिस्थितियों को देखकर पहले बल्लेबाजी करना सही हो सकता है लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि भारत ने जिन पिछले छह मैचों में पहले बल्लेबाजी की उनमें से चार में उसे शिकस्त मिली।

मैच के दौरान ऐसा रहेगा मौसम

पिछले कुछ दिनों से दिल्ली मैच को लेकर सिर्फ प्रदूषण की चर्चा में है। बांग्लादेश के खिलाड़ी ही नहीं मैदानकर्मी भी मास्क लगाकर यहां पर काम करते नजर आए। खलील अहमद ने मास्क तो नहीं लगाया लेकिन उन्होंने शनिवार को नोज बड लगाकर अभ्यास किया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। यहां तक कि स्कूलों में छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं लेकिन बीसीसीआइ की रोटेशन नीति के तहत अरुण जेटली स्टेडियम को मिला यह मैच आयोजित किया जाएगा।

श्रीलंका के खिलाफ दो साल पहले इसी तरह की परिस्थितियों में यहां टेस्ट मैच खेला गया था और तब श्रीलंका ही नहीं भारतीय खिलाडि़यों को भी परेशानी हुई थी। इस बार भी स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इस तरह के खतरनाक हालात में खेलकूद की किसी भी गतिविधि में शामिल होने से स्पष्ट मना किया है। हालांकि भारत और बांग्लादेश दोनों देशों के क्रिकेटरों को विश्वास है कि वे इस तरह की परिस्थितियों से निबटने में सफल रहेंगे। वैसे एक बात तो साफ है कि मैच वाले दिन भी हालात में कोई बड़ा बदलाव नहीं दिखेगा। 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप