सिडनी, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने के बाद लाल गेंद (टेस्ट क्रिकेट) से खेलने वाले खिलाड़ी इसकी मिठास का लुत्फ उठा रहे हैं, जबकि पूर्व कप्तान और अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी जैसे सफेद गेंद (सीमित ओवरों के प्रारूप) के विशेषज्ञों ने बुधवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर जमकर अभ्यास किया। धौनी ने नेट्स में बड़े शाट्स के साथ-साथ डिफेंस की भी प्रैक्टिस की। 

वनडे विश्व कप 2019 को देखते हुए अब खिलाड़ियों का ध्यान पूरी तरह से सफेद गेंद की क्रिकेट पर लगा हुआ है और मंगलवार को सीमित ओवरों के विशेषज्ञ खिलाड़ी भी वनडे सीरीज खेलने के लिए यहां पहुंच गए।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला शनिवार को सिडनी में खेला जाएगा। सिडनी में ही दोनों टीमों के बीच टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच खेला गया था, जो ड्रॉ रहा था।

इंग्लैंड में होने वाले आगामी विश्व कप से पहले कई वनडे मुकाबले खेले जाने हैं जिसमें ऑस्ट्रेलिया में तीन वनडे और न्यूजीलैंड में पांच वनडे के अलावा तीन मैचों की टी-20 सीरीज भी शामिल है। इसके बाद 23 मार्च से शुरू होने वाले आइपीएल के अगले सत्र से पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम पांच वनडे और दो टी-20 मैचों की सीरीज खेलने के लिए भारत दौरे पर जाएगी।

भारतीय चौकड़ी ने किया अभ्यास 

धौनी सहित सीमित ओवरों के विशेषज्ञ खिलाड़ी शिखर धवन, रोहित शर्मा, अंबाती रायुडू, केदार जाधव, युजवेंद्रा सिंह चहल, दिनेश कार्तिक और खलील अहमद यहां भारतीय टीम के साथ जुड़ गए हैं। मंगलवार को सिडनी पहुंचे खिलाड़ियों में से चार सदस्यों ने बुधवार को एससीजी में अभ्यास किया।

धौनी, धवन, जाधव और रायुडू ने शनिवार को सिडनी में होने वाले पहले वनडे से पहले मैदान पर जमकर पसीना बहाया। हालांकि, वनडे सीरीज की तैयारियां गुरुवार से जोर पकड़ेंगी जब पूरी टीम इंडिया नवंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के बाद पहली बार एक साथ पहले अभ्यास सत्र में हिस्सा लेगी।

टीम इंडिया की इस चौकड़ी ने पहले थ्रोडाउन का अभ्यास किया, क्योंकि इस वैकल्पिक सत्र में टीम का कोई भी विशेषज्ञ गेंदबाज मौजूद नहीं था। धवन और रायुडू ने दोनों हाथों से थ्रोडाउन का अभ्यास किया, जबकि धौनी ने इंडोर नेट में सहायक कोच संजय बांगड़ के साथ अभ्यास किया। वहीं, जाधव ने दो अलग-अलग नेट्स पर अभ्यास किया।

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप