नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर टेस्ट डेब्यू किया। अपनी पहली सीरीज को यादगार बनाते हुए उन्होंने तीसरे ही मैच में एक पारी में पांच विकेट लेने का कमाल कर दिखाया। अनुभवी गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बाद सिराज ही टीम के सबसे अनुभवी गेंदबाज थे और उन्होंने इस जिम्मेदारी को बखूबी निभाया।

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में दो टेस्ट का अनुभव रखने वाले सिराज के नेतृत्व में गेंदबाजी आक्रमण लेकर उतरी। टी नटराजन पहला मैच खेल रहे थे जबकि शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी दूसरे टेस्ट में उतरे थे। सिराज ने गेंदबाजी कमान संभालते हुए दूसरी पारी में 5 विकेट निकालकर भारत के लिए मैच बनाया। ऑस्ट्रेलिया दूसरी पारी में 294 रन बनाकर ऑलराउट हुई जिसमें शार्दुल ने चार और सिराज ने 5 अहम विकेट हासिल किए। भारत के सामने मेजबान ने 328 रन का लक्ष्य रखा।

सिराज जब दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 विकेट लेने का कमाल कर वापस लौट रहे थे तो उनके स्वागत में पूरी टीम और कोचिंग स्टाफ खड़ा था। इसी में टीम के अनुभवी गेंदबाज और सिराज को अहम सीख देने वाले जसप्रीत बुमराह भी मौजूद थे। उन्होंने सिराज को गले से लगाया और जोरदार झप्पी देकर उनका स्वागत किया।

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे जिसके जवाब में भारत ने शार्दुल ठाकुर और वॉशिंग्टन सुंदर के अर्धशतक के दम पर 336 रन बनाया। पहली पारी के आधार पर 33 रन की बढ़त लेने वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम दूसरी पारी में 294 रन ही बना पाई। भारत ने चौथे दिन बिना किसी नुकसान पर 4 रन बनाए थे। 

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप