दुबई, प्रेट्र। आइसीसी ने कहा कि साउथैंप्टन में पिछले महीने भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया फाइनल विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) की सभी श्रृंखलाओं में सबसे अधिक देखा गया मुकाबला था। आइसीसी की विज्ञप्ति के अनुसार यह टेस्ट मैच 18 से 23 जून के बीच खेला गया और 89 क्षेत्रों में इस मुकाबले का सीधा प्रसारण देखने वालों की कुल संख्या 13 करोड़ छह लाख तक पहुंची। भारत से इस मुकाबले को सबसे अधिक दर्शक मिले। स्टार स्पोर्ट्स और राष्ट्रीय प्रसारक दूरदर्शन पर इस मुकाबले को कुल संख्या के 94.6 प्रतिशत दर्शकों ने देखा। न्यूजीलैंड ने फाइनल को रिजर्व दिन में आठ विकेट से जीता था।

वैश्विक स्तर पर तैयार अंग्रेजी फीड के अलावा स्टार स्पोर्ट्स ने स्थानीय भाषाओं हिंदी, तमिल, तेलुगु और कन्नड़ में भी प्रसारण किया था। न्यूजीलैंड की कम जनसंख्या के बावजूद वहां से दर्शकों के आंकड़े प्रभावशाली रहे। न्यूजीलैंड के दो लाख से अधिक लोगों ने पूरी रात जागकर या सुबह जल्दी उठकर स्काई स्पोर्ट्स पर अपनी टीम को प्रतिष्ठित टेस्ट गदा उठाते हुए देखा। ब्रिटेन में स्काई स्पोर्ट्स पर 2019-2021 डब्ल्यूटीसी चक्र में यह ऐसा सबसे अधिक देखा जाने वाला मुकाबला था जिसमें मेजबान इंग्लैंड ने हिस्सा नहीं लिया हो। रिजर्व दिन का खेल इंग्लैंड की गैरमौजूदगी वाले टेस्ट में 2015 से सबसे अधिक लोगों ने देखा।

मुख्य प्रसारण बाजारों के अलावा आइसीसी टीवी पर 145 से अधिक क्षेत्रों में 6,65,100 अतिरिक्त लोगों ने सीधा प्रसारण देखा। सीधा प्रसारण कुल मिलाकर एक करोड़ 40 लाख मिनट तक देखा गया। मैच के दौरान आइसीसी के डिजिटल मंच पर सभी तरह की वीडियो सामग्री को 50 करोड़ से अधिक दर्शक मिले। आईसीसी की डिजिटल संपत्तियों में फेसबुक पर सबसे अधिक 42 करोड़ 30 लाख दर्शक मिले। आईसीसी पेज पर 36 करोड़ 80 लाख मिनट तक दर्शकों ने वीडियो देखे।

रिजर्व दिन के खेल ने आइसीसी के फेसबुक पेज पर एक दिन में सर्वाधिक दर्शकों का रिकॉर्ड बनाया। चौबीस घंटे के दौरान छह करोड़ 57 लाख लोगों ने वीडियो देखे। पिछला रिकॉर्ड आइसीसी महिला टी 20 विश्व कप 2020 के फाइनल के नाम था जिसे छह करोड़ 43 लाख दर्शकों ने देखा था। इंस्टाग्राम पर फाइनल को सात करोड़ दर्शक मिले। आइसीसी वेबसाइट और मोबाइल ऐप के अलावा ट्विटर और यूट्यूब पर आइसीसी के चैनल पर दर्शकों ने कुल आंकड़े को 51 करोड़ 50 लाख दर्शक तक पहुंचाया।

Edited By: Sanjay Savern