लंदन, प्रेट्र। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेट कप्तान माइकल अथर्टन को लगता है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) युवा खिलाडि़यों के लिए ज्यादा विकल्प और मौके सामने लाया, लेकिन इसकी वजह से क्रिकेट का खेल भी अस्त-व्यस्त हुआ है।

अथर्टन इंग्लैंड के लॉ‌र्ड्स में पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की किताब 'ए सेंचुरी इज नॉट एनफ' के अनावरण के दौरान बोल रहे थे। इस मौके पर क्रिकेट की चर्चा के दौरान अथर्टन के साथ पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर माइक गैटिंग और पूर्व श्रीलंकाई कप्तान कुमार संगाकारा भी मौजूद थे।

टी-20 लीग की बढ़ती लोकप्रियता से टेस्ट क्रिकेट के भविष्य पर असर पड़ने को लेकर पूछे गए सवाल पर अथर्टन ने कहा, 'किसी अन्य उद्योग की तरह क्रिकेट भी अस्त-व्यस्त हुआ है। खिलाडि़यों को विकल्प और अवसर प्रदान करने के बावजूद आइपीएल नुकसानदायक टूर्नामेंट रहा है। इंग्लैंड में हम अब भी टेस्ट क्रिकेट के टिकट खरीदते हैं। भारत में (टेस्ट मैचों के दौरान) मैदान खाली नजर आ सकते हैं, लेकिन हमें यह ध्यान में रखना होगा कि उनके मैदान काफी बड़े हैं। खेल हमेशा बदलाव को अपनाता है और यह आगे भी जारी रहेगा। मैं भविष्य के बारे में आशावादी रहूंगा।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें
अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By Ravindra Pratap Sing