वेलिंग्टन, एएनआइ। शुक्रवार 17 सितंबर को पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच वनडे सीरीज की शुरुआत रावलपिंडी में होनी थी, लेकिन टास होने से कुछ ही समय पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने इस दौरे को कैंसिल कर दिया। न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) ने दौरे को रद करने के पीछा सुरक्षा कारणों का हवाला दिया और अब सामने आ गया है कि न्यूजीलैंड की सरकार को जो खुफिया जानकारी मिली थी, वो मामूली जानकारी नहीं ती।

दरअसल, एक वैश्विक खुफिया संगठन ने सुरक्षा अलर्ट जारी किया था, जिसके कारण पाकिस्तान का न्यूजीलैंड क्रिकेट दौरा रद कर दिया गया। ये रिपोर्ट द न्यूजीलैंड हेराल्ड में प्रकाशित हुई है। विदेशी मीडिया का हवाला देते हुए द न्यूजीलैंड हेरानल्ड ने कहा कि खुफिया जानकारी "फाइव आईज" से आई है, जो न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया, कनाडा, अमेरिका और यूके के एक खुफिया संघठन है।

न्यूजीलैंड की टीम, जो 2003 के बाद पाकिस्तान की धरती पर अपना पहला मैच खेलने के लिए तैयार थी, उन्होंने शुक्रवार को सूचित किया कि वे सरकारी सुरक्षा अलर्ट के बाद अपना दौरा छोड़ रहे हैं। NZC ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, "पाकिस्तान के लिए न्यूजीलैंड सरकार के खतरे के स्तर में वृद्धि और जमीन पर NZC सुरक्षा सलाहकारों की सलाह के बाद यह निर्णय लिया गया है कि न्यूजीलैंड का पाकिस्तान दौरा नहीं रहेगा।"

वहीं, रविवार को NZC के मुख्य कार्यकारी डेविड व्हाइट ने कहा कि उनके पास एक विशिष्ट और विश्वसनीय खतरे की न्यूजीलैंड सरकार से सलाह मिली थी। इसके बाद हमारे पास दौरे को छोड़ने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। उन्होंने कहा, "मैं जो कह सकता हूं वह यह है कि हमें सलाह दी गई थी कि यह टीम के खिलाफ एक विशिष्ट और विश्वसनीय खतरा था। निर्णय लेने से पहले हमने न्यूजीलैंड सरकार के अधिकारियों के साथ बातचीत की और पीसीबी को अपनी स्थिति के बारे में सूचित करने के बाद हमें पता चला कि संबंधित प्रधानमंत्रियों के बीच एक टेलीफोन चर्चा हुई थी।"

Edited By: Vikash Gaur