नई दिल्ली, जेएनएन। इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 2020 के सीजन के लिए मुख्य प्रायोजक (title sponsor) का ऐलान हो गया है। ड्रीम इलेवन (Dream 11) कंपनी ने आइपीएल टाइटल स्पॉन्सरशिप हासिल कर ली है। ये कंपनी चीनी मोबाइल कंपनी को 2020 के आइपीएल के बतौर मुख्य प्रायोजक रिप्लेस करेगी। आइपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप हासिल करने के लिए ड्रीम इलेवन ने वीवो की तरह मोटी बोली लगाई है।

आइपीएल 2020 का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच खेला जाना है। इससे पहले भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने वीवो के साथ अपनी साझेदारी तोड़ ली थी, क्योंकि पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। इसी विवाद के बाद भारत में चीनी सामानों के खिलाफ बहिष्कार शुरू हो गया था। ऐसे में बीसीसीआइ ने विवादों से बचने के लिए वीवो के साथ 2020 के लिए साझेदारी से समझौता कर लिया था।

लीडिंग फैंटेसी स्पोर्ट्स प्लेटफॉर्म ड्रीम इलेवन में टाटा ग्रुप और अनएकेडमी जैसे आइपीएल के मुख्य प्रायोजक के दावेदारों को चित करते हुए बोली लगाई और जीती। इस बोली में दूसरे नंबर पर अनएकेडमी रही, जबकि तीसरे नंबर पर टाटा संस ने बोली लगाई। ड्रीम 11 ने 250 करोड़ रुपये की बोली के साथ आइपीएल 2020 के टाइटल स्पॉन्सर की डील में बाजी मारी है। हालांकि, वीवो जितना एक साल के आइपीएल के बीसीसीआइ को रकम(एक साल के लिए 440 करोड़ ) अदा करती थी, उससे कम रकम में बीसीसीआइ को नया स्पॉन्सर मिला है। 

इससे पहले कहा जा रहा था कि आइपीएल के टाइटल स्पॉन्सरशिप की रेस ड्रीम इलेवन के अलावा बायजू, अनएकेडमी, टाटा संस और पतंजलि के बीच होगी, लेकिन बायजू और पतंजलि रेस में काफी पीछे रह गईं, जबकि बाजी ड्रीम 11 ने मारी। हालांकि, बीसीसीआइ और ड्रीम 11 के बीच ये करार सिर्फ चार महीने का होगा। इस बात का ऐलान बीसीसीआइ ने पहले ही कर दिया था, क्योंकि आगे फिर से बीसीसीआइ को वीवो के साथ हाथ मिलाना है। 

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप