दाम्बुला। श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने कहा कि तिलकरत्ने दिलशान ने भी श्रीलंकाई क्रिकेट के लिए महान क्रिकेटरों कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने के समान योगदान दिया है। वे 9 सितंबर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच के साथ अंतरराष्ट्रीय करियर को विराम देंगे।
दिलशान वनडे में 10000 रन बनाने वाले चौथे श्रीलंकाई बल्लेबाज बने थे और शतक के मामले में वे श्रीलंकाई बल्लेबाजों में तीसरे स्थान पर है। दिलशान के अंतिम वन-डे के पूर्व मैथ्यूज ने कहा, दिलशान ने पिछले 17 वर्षों से श्रीलंकाई क्रिकेट की सेवा की है। मेरा मानना है कि हमारे क्रिकेट में उनका भी संगकारा और जयवर्धने के समान ही योगदान है। हमें उनकी कमी खलेगी।यह दुर्भाग्य है कि उन्होंने संन्यास का फैसला लिया और हम उनके इस फैसले का सम्मान करते हैं।
संगकारा और जयवर्धने ने कहा कि दिलशान को शानदार विदाई दी जानी चाहिए। संगकारा ने दिलशान को सनथ जयसूर्या के साथ श्रीलंका का महानतम मैच विनर बताया। पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने कहा कि किसी भी कप्तान के लिए ऑलराउंडर दिलशान एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी साबित होते रहे हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern