नई दिल्ली, एजेंसी। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) ने मंगलवार को भ्रष्टाचार के एक मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के पूर्व संयुक्त निदेशक जेपी सिंह समेत तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है। जेपी सिंह आइपीएल में सट्टेबाजी के गिरोह की जांच कर रहे थे।

गिरफ्तार किए गए लोगों में ईडी के ही एक अधिकारी संजय सिंह भी शामिल हैं। जेपी सिंह पर घूस लेने का आरोप है। यह मामला 2015 का है।

जेपी सिंह ईडी अहमदाबाद के पूर्व संयुक्त सचिव थे। वह आइपीएल में सट्टेबाजी के गिरोह और हवाला कांड की जांच कर रहे थे। सीबीआइ ने 2015 में 2000 बैच के इस आइआरएस अधिकारी और अन्य लोगों के खिलाफ आइपीसी की भ्रष्टाचार रोधी धाराओं में केस दर्ज किया था।

इस केस के लिए ईडी ने सीबीआइ पत्र लिखा था। इसके बाद ही जेपी सिंह और दूसरे अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज हुआ था। जेपी सिंह पर आरोप था कि वह आइपीएल के सट्टेबाज गिरोहों और इसमें हवाला का पैसा लगाने के आरोपियों से पैसे ऐंठते थे।

ईडी की अहमदाबाद की इकाई आइपीएल से संबंधित दो अहम केसों की जांच कर रही थी। इसमें से एक मामला 2,600 करोड़ रुपए का आइपीएल सट्टेबाजी कांड का था तो दूसरा केस 5,000 करोड़ रुपए लगाने वाले हवाला कारोबारी अफरोज फत्ता से संबंधित था। जानकारी के मुताबिक इन दोनों मामलों के आरोपियों ने जांच में छूट लेनी चाही थी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

जेपी सिंह और दो अन्य अधिकारियों पर आरोप हैं कि उन्होंने इस केसों के आरोपियों को धमका कर उनसे पैसे ऐंठने का काम किया था।

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस