नई दिल्ली, पीटीआइ। बुधवार को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी के चेयरमैन पद से इस्तीफा देने वाले शशांक मनोहर की जगह किसको चुना जाएगा, ये बोर्ड को तय करना है। हालांकि, इसके लिए भारत से भी कुछ लोग हैं, जो इस कुर्सी पर विराजमान हो सकते हैं। ऐसे में बीसीसीआइ के पूर्व सचिव निरंजन शाह और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार (सीएबी) के सचिव आदित्य वर्मा ने बीसीसीआइ को एक बड़ा सुझाव दिया है।

पहले तो निरंजन शाह और आदित्व वर्मा ने आइसीसी चेयरमैन पद से इस्तीफा देने वाले भारतीय दिग्गज शशांक मनोहर की आलोचना की है और फिर सुझाव दिया है कि बीसीसीआइ को आइसीसी के बॉस बनने के लिए एन श्रीनिवासन का नाम आगे करना चाहिए। आदित्य वर्मा ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में केवल एक शख्स के कारण बीसीसीआइ को करोड़ों रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है। वर्मा ने सीधे तौर पर शशांक पर निशाना साधा है।

आदित्य वर्मा ने कहा है, "हमारे रणछोड़ मनोहर ने एक ऐसे कप्तान की छवि बना ली है, जो बीच समंदर मे जहाज को डूबता छोड़कर खुद निकल जाता है चाहे वह बीसीसीआइ हो या आइसीसी। वर्तमान परिस्थिति में बीसीसीआइ की मजबूती के लिए सौरव गांगुली अपनी जिम्मेदारी का अच्छी तरह से निर्वाह करें और आइसीसी में बीसीसीआइ की ओर से एन. श्रीनिवासन को भेजा जाए। बीसीसीआइ में गांगुली एवं आइसीसी में श्रीनिवासन के कुशल नेतृत्व की आवश्यकता है।"

आइसीसी के चेयरमैन पद के लिए भारत की तरफ से एन श्रीनिवासन के अलावा अनुराग ठाकुर और सौरव गांगुली योग्य हैं, लेकिन अनुराग ठाकुर राजनीति के चलते आइसीसी में शायद जाना नहीं चाहेंगे, पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बीसीसीआइ और भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ाने की वजह से आइसीसी के बॉस बनना नहीं पसंद करेंगे। ऐसे में भारत के पास एन श्रीनिवासन के रूप में एक विकल्प बचता है, जिस पर विचार किया जा सकता है।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस