ब्रिस्टल, एएफपी। इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स को दूसरे टेस्ट मैच के लिए चुनी गई टीम में शामिल नहीं किया गया है। क्योंकि इन दिनों कोर्ट में उनके केस का ट्रायल चल रहा है। पिछले साल सितंबर में इस खिलाड़ी ने शराब पी कर एक पब में मारपीट की थी और इसी केस के ट्रायल के चलते उन्हें भारत के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट में शामिल नहीं किया गया है। सोमवार को उनके केस का कोर्ट में ट्रायल हुआ और अभियोजन पक्ष के वकील ने उन्हें पर गंभीर इल्ज़ाम लगाए।

स्ट्रीट ब्राउल मामले पर सोमवार को कोर्ट में बताया गया कि पिछले साल सितंबर में हुई लड़ाई में इंग्लैंड के क्रिकेटर बेन स्टोक्स अपना आपा खो बैठे थे। कोर्ट में अभियोजन पक्ष के वकील निकोलस कोर्सेलिस ने कहा कि स्टोक्स बदला, प्रतिशोध या सजा के रूप में बर्ताव कर रहे थे और हिंसा से जुड़े हुए थे।

स्टोक्स के अलावा 27 वर्षीय रेयान अली और 28 साल के रेयान हेल्स पर भी सुनवाई चल रही है। इन सभी ने अपने पर लगे आरोपों से इन्कार किया है। अभियोजन पक्ष के वकील ने कहा कि ये सभी ब्रिस्टल के एक नाइट क्लब में शराब पी रहे थे। पिछले साल 25 सितंबर को रात के करीब दो बजे के बाद इनकी लड़ाई शुरू हो गई।

कोर्सेलिस ने कहा कि घटना के समय स्टोक्स अपना संयम खो बैठे और बदला, प्रतिशोध या फिर सजा की भावना से आक्रमण करने लगे जो कि आत्मरक्षा या किसी अन्य की रक्षा से इतर था। उन्होंने हेल्स को बेहोश कर दिया और फिर उन्होंने वैसा ही अली के साथ किया। अली को आंख सहित कई गंभीर चोटें आईं।

अली ने मारपीट की शुरुआत की और हेल्स ने इसे आगे बढ़ाया। स्टोक्स देश के एक नामी क्रिकेटर हैं, अली इमरजेंसी सर्विस के लिए काम करते हैं और हेल्स सशस्त्र बल के साथ देश की सेवा कर चुके हैं। पिछली सफलताएं और आपके अच्छे कर्म आपको अपने कर्तव्य से मुक्त नहीं करता है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal