नई दिल्ली, रायटर्स। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ चाहती है कि इस साल आइपीएल का आयोजन हो, लेकिन बोर्ड के अधिकारी ने इस बात से इन्कार कर दिया है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड आइपीएल के आयोजन के लिए आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप स्थगित करने के पक्ष में नहीं है। अगर टी20 वर्ल्ड कप स्थगित होता है तो बीसीसीआइ को अक्टूबर-नवंबर की विंडो आइपीएल के लिए उपलब्ध होगी।

BCCI के लिए इस साल के आइपीएल की कीमत लगभग 530 मिलियन यूएस डॉलर है। आइपीएल 2020 को फिलहाल अनिश्चितकाल के लिए कोरोना वायरस महामारी की वजह से टाल दिया है, जबकि ऑस्ट्रेलिया में आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से प्रस्तावित है, लेकिन इस टूर्नामेंट पर भी कोरोना वायरस का खतरा मंडरा रहा है। यहां तक कि कुछ रिपोर्ट्स में दावा भी किया जा रहा है कि अगले कुछ सप्ताह में आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप को स्थगित करने का फैसला लेगी।

उधर, ऑस्ट्रेलियाई मीडिया में कहा जा रहा है कि दुनिया का सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड आइपीएल के लिए विंडो तलाशने की वजह से वर्ल्ड कप को आगे धकलने की कोशिश करेगा। वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी की बोर्ड मीटिंग होगी, लेकिन बीसीसीआइ के कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल ने कहा है कि हम नहीं चाहते कि आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप स्थगित किया जाए।

धूमल ने न्यूज एजेंसी रायटर्स से फोन पर बात करते हुए कहा है, "बीसीसीआइ टी20 विश्व कप को स्थगित करने का सुझाव क्यों देगी? हम बैठक में इस पर चर्चा करेंगे और जो भी उचित होगा, आइसीसी उस पर फैसला लेगी। अगर ऑस्ट्रेलिया सरकार घोषणा करती है कि टूर्नामेंट होगा और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को भरोसा है कि वे इसे संभाल सकते हैं, तो यह उनका फैसला होगा BCCI इसमें कुछ भी नहीं सुझाएगा।"

धूमल ने सवाल किया कि क्या टूर्नामेंट को बिना दर्शकों के साथ आयोजित कराया जाएगा? इस पर ऑस्ट्रेलियाई सरकार किसी भी निर्णय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा है, "यह सब इस पर निर्भर करता है कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार इस पर क्या कहती है - क्या वे अनुमति दे सकते हैं ताकि टीमें टूर्नामेंट में आ सकें और खेल सकें। क्या इसका कोई मतलब होगा कि इतना बड़ा टूर्नामेंट बिना दर्शकों के आयोजित होगा?"

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस