नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। बीसीसीआइ ने शीर्ष परिषद की बैठक में सदस्यों को सूचित किया कि बोर्ड ने टी-20 विश्व कप के लिए अपने टिकट अधिकार अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) और ओमान क्रिकेट (ओसी) को हस्तांतरित कर दिए हैं। मैच टिकटों की बिक्री से उत्पन्न सभी राजस्व ईसीबी और ओसी ही अपने पास रखेंगे।

बीसीसीआइ ईसीबी को करीब 11 करोड़ छह लाख रुपये (1.5 मिलियन अमेरिकी डालर) का एक निश्चित शुल्क और करीब 40 करोड़ 53 लाख रुपये (5.5 मिलियन अमरीकी डालर) की परिचालन लागत का भुगतान कर रहा है जिसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) द्वारा कवर किया जाएगा। इस आयोजन के लिए एक स्थानीय आयोजन समिति (एलओसी) का गठन किया गया है जिसमें मुख्य रूप से बीसीसीआइ के कर्मचारी और ईसीबी के कुछ कर्मचारी शामिल हैं। बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा कि बोर्ड छह मैच मस्कट में आयोजित कर रहा है। बोर्ड करीब दो करोड़ 95 लाख रुपये (400000 अमेरिकी डालर) ओमान क्रिकेट को दे रहा है।

आपको बता दें कि टी20 वर्ल्ड कप 2021 का आयोजन पहले भारत में होना था, लेकिन यहां पर कोविड-19 महामारी की हालत को देखते हुए इसे यूएई और ओमान में संयुक्त रूप से करवाने का फैसला किया गया। यूएई में फिलहाल आइपीएल 2021 का आयोजन किया जा रहा है और इसके ठीक बाद यानी 19 अक्टूबर से टी20 वर्ल्ड कप 2021 की शुरुआत होगी। 

इस बार वर्ल्ड कप में भारत को पहला मुकाबला पाकिस्तान के खिलाफ 24 अक्टूबर को खेलना है। भारत को ग्रुप बी में रखा गया है जहां उसके अलावा अफगानिस्तान, पाकिस्तान व न्यूजीलैंड की टीम है। ग्रुप बी में दो अन्य टीमों की एंट्री क्वालीफिकेशन राउंड के बाद होगी। इस बार कुल 12 टीमें खिताबी जीत के लिए मुकाबला करेंगे। भारत को पाकिस्तान के खिलाफ पहला लीग मैच खेलने से पहले इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के खिलाफ वार्मअप मैच भी खेलने हैं। 

Edited By: Sanjay Savern