नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। टोक्यो ओलिंपिक 2020 में भारत के लिए छह खिलाड़ियों ने व्यक्तिगत इवेंट तो वहीं हॉकी टीम ने फील्ड इवेंट में देश के लिए मेडल जीते। खेल के सबसे बड़े इवेंट में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआइ) ने ईनाम देने की घोषणा की। बीसीसीआइ ने गोल्ड मेडल जीतने वाले जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा को जहां एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की तो वहीं भारतीय पुरुष हॉकी टीम को 1 करोड़ 25 लाख रुपये ईनाम के तौर पर देने का एलान किया। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने फील्ड हॉकी में देश के लिए 41 साल के बाद ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने का कमाल किया था। 

वहीं भारत के लिए टोक्यो ओलिंपिक में एकमात्र गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा को एक करोड़ रुपये देने का एलान किया। नीरज ने भारत के लिए पहली बार जैवलिन थ्रो इवेंट में देश के लिए गोल्ड मेडल जीता। इसके अलावा दो खेलों में सिल्वर मेडल जीतने वाले एथलीट मीराबाई चानू और रवि कुमार दाहिया को बतौर ईनाम 50-50 रुपये देने की घोषणा बीसीसीआइ की तरफ से की गई है। मीरा बाई चानू ने वेटलिफ्टिंग में तो वहीं रवि कुमार दाहिया ने 57 किलो कैटेगरी में रेसलिंग में भारत के लिए सिल्वर मेडल जीते थे। 

इनके अलावा ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले तीन खिलाड़ियों पीवी सिंधू, लवलीना बोरगोहेन और बजरंग पूनिया को 25-25 लाख रुपये देने का एलान किया। पीवी सिंधू ने महिला एकल बैडमिंटन प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मेडल जीता था तो वहीं लवलीना ने बॉक्सिंग में ये कमाल किया था। इसके अलावा बजरंग पूनिया ने फ्रीस्टाइल कुश्ती में 65 किलो भारवर्ग में भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीता था। 

बीसीसीआइ द्वारा ओलिंपिक विनर के लिए ईनाम का एलान-

नीरज चोपड़ा- एक करोड़ रुपये

मीरा बाई चानू, रवि दाहिया- 50 लाख रुपये

पीवी सिंधू, लवलीना, बजरंग पूनिया- 25 लाख रुपये

भारतीय पुरुष हॉकी टीम- 1 करोड़ 25 लाख रुपये

Edited By: Sanjay Savern